NDTV Khabar

कांग्रेस नेता ने कहा- हिम्मत है तो पीएम मोदी को मारो गोली, बीजेपी ने कहा- गिरफ्तार करो

कर्नाटक(Karnataka) के कांग्रेस नेता (Congress leader) वेलूर गोपाल कृष्ण (Belur Gopalakrishna) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी(PM Modi) को 'गोली मारने' से जुड़ा बयान देकर विवाद खड़ा कर दिया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कांग्रेस नेता ने कहा- हिम्मत है तो पीएम मोदी को मारो गोली, बीजेपी ने कहा- गिरफ्तार करो

कर्नाटक के कांग्रेस नेता बेलूर गोपालकृष्ण की फाइल फोटो.

खास बातें

  1. कांग्रेस नेता बोले- "दम हो तो पीएम मोदी को पहले मारो गोली"
  2. विवादित बयान पर मचा कर्नाटक में घमासान
  3. कांग्रेस नेता ने कांग्रेस नेता गोपालकृष्ण की गिरफ्तारी की मांग उठाई
नई दिल्ली:

कर्नाटक(Karnataka) के कांग्रेस नेता (Congress leader) वेलूर गोपाल कृष्ण (Belur Gopalakrishna) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी(PM Modi) को 'गोली मारने' से जुड़ा बयान देकर विवाद खड़ा कर दिया. उनका यह कथित भड़काऊ बयान सोशल मीडिया पर वायरल हो गया. जिसके बाद बीजेपी ने  विधायक की गिरफ्तारी की मांग की है. हालांकि कांग्रेस ने पार्टी नेता के बयान से खुद को अलग करते हुए इसे दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया है.मामले के तूल पकड़ने के बाद गोपालकृष्ण ने माफी मांगने के साथ यह कहा कि उनके बयान का गलत मतलब निकाला गया.

यह भी पढ़ें- Mahatma Gandhi के पुतले पर गोलियां बरसाने वाली हिंदू महासभा की पूजा शकुन पांडेय और उसका पति गिरफ्तार


दरअसल,  कांग्रेस नेता बेलूर गोपालकृष्ण हिंदू महासभा की नेता पूजा शकुन पांडेय के बीते दिनों के कृत्य पर बोल रहे थे, जिसमें महात्मा गांधी के पुतले को गोली मारने का उनका वीडियो वायरल हुआ था. इस पर बोलते हुए कांग्रेस नेता ने कहा- इन दिनों लोग महात्मा गांधी को मारने वाले नाथूराम गोडसे के बारे में बात कर रहे हैं. ये लोग समाज में रहने लायक नहीं हैं. यदि वे लोकतांत्रिक ताने-बाने को खत्म करना ही चाहते हैं तो उनमें पीएम मोदी को मारने का हिम्मत होना चाहिए. चार फरवरी को वायरल हुए कथित वीडियो में विधायक यह बात कहते सुनाई दे रहे हैं. इस बयान ने बीजेपी को आगबबूला कर दिया. पार्टी प्रवक्ता एस प्रकाश ने कहा- कांग्रेस विधायक ने ऐसा बयान देकर गंभीर अपराध किया है, उनकी गिरफ्तारी होनी चाहिए. उधर कांग्रेस नेता एमबी पाटिल ने भी बयान को दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया है.

यह भी पढ़ें- जिस 'डिस्लेक्सिया' को लेकर ट्रोल हुए पीएम मोदी, जानिए उसके बारे में सबकुछ

हालांकि, पाटिल ने कहा कि हम तथ्यों की जांच कर रहे हैं. अगर बयान सही है तो हम निंदा करते हैं. यह हमारी कांग्रेस की संस्कृति नहीं है. उधर, मामला बढ़ने के बाद विधायक ने बयान पर खेद प्रकट किया है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के प्रति मैं सम्मान रखता हूं. मैने कभी नहीं कहा कि पीएम  की हत्या होनी चाहिए. मैं कैसे चुप रह सकता हूं, जब गांधी जी का अपमान हो. मैने कहा था कि क्या आप यही चीज पीएम के साथ भी कर सकते हो. यदि मेरे बयान से किसी के दिल को ठेस पहुंची हो तो मैं माफी मांगता हूं.

टिप्पणियां

वीडियो- बीजेपी ने बदली अपनी चुनावी रणनीति 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement