NDTV Khabar

केरल के मंदिरों में पुजारी पद के लिए छह दलितों के नाम की सिफारिश

यह पहली बार है जब पुजारी की नियुक्ति के लिए अनुसूचित जाति समुदाय के छह लोगों के नामों की सिफारिश की गई है.

14 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
केरल के मंदिरों में पुजारी पद के लिए छह दलितों के नाम की सिफारिश

प्रतीकात्मक तस्वीर

तिरुवनंतपुरम: केरल के मंदिरों में पुजारी के तौर पर नियुक्ति के लिए 36 गैर-ब्रह्माणों में छह दलितों के नाम भी सुझाए गए हैं. इन मंदिरों का प्रबंधन त्रावणकोर देवस्वम बोर्ड (टीडीबी) करता है. एक प्रेस विज्ञप्ति में बताया गया है कि इस संबंध में सुझाव केरल देवस्वम नियुक्ति बोर्ड द्वारा दिए गए हैं. यह पहली बार है जब पुजारी की नियुक्ति के लिए अनुसूचित जाति समुदाय के छह लोगों के नामों की सिफारिश की गई है. विज्ञप्ति के मुताबिक इन अंशकालिक पुजारियों की नियुक्ति के लिए लोक सेवा आयोग (पीएससी) की तर्ज पर ही आयोजित एक लिखित परीक्षा और साक्षात्कार का आयोजन किया गया था.

यह भी पढ़ें : बाबरी पैरोकार हाशिम अंसारी के जनाज़े में पहुंचे राम जन्‍मभूमि के पुजारी...

देवस्वम मंत्री कदकमपल्ली रामचंद्रन ने स्पष्ट किया था कि इसमें भ्रष्टाचार के लिए कोई जगह नहीं होगी और चयन मेरिट के आधार पर तथा आरक्षण के नियमों का पालन करते हुए किया जाएगा.

VIDEO : दुर्गा पूजा में भी दिखा भेदभाव, दलितों के गांव में नहीं आए पुजारी 

विज्ञप्ति में कहा गया है कि पुजारी के कुल 62 पदों पर नियुक्ति के लिए सिफारिश की गई थी जिसमें 26 अगड़ी जाति से होंगे. टीडीबी कम से कम 1,248 मंदिरों का प्रबंधन करता है जिनमें सबरीमाला के प्रसिद्ध भगवान अयप्पा का मंदिर भी शामिल है.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement