NDTV Khabar

दक्षिण रेलवे जोन में बिना चौकीदार वाले फाटक (यूएमएलसी) खत्म, अब बढ़ेगी सुरक्षा

दक्षिण रेलवे ने शनिवार को कहा कि वह 2010 के एक नीतिगत फैसले को लागू करने से ‘‘बिना चौकीदार वाले फाटक (यूएमएलसी) से मुक्त क्षेत्र’’ बन गया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दक्षिण रेलवे जोन में बिना चौकीदार वाले फाटक (यूएमएलसी) खत्म, अब बढ़ेगी सुरक्षा

प्रतीकात्मक फोटो

खास बातें

  1. दक्षिण रेलवे बिना चौकीदार वाले फाटक से मुक्त क्षेत्र हुआ
  2. अब सुरक्षा में इजाफा हो गया
  3. रेल मंत्री पीयूष गोयल ने दिया था निर्देश
चेन्नई:

दक्षिण रेलवे ने शनिवार को कहा कि वह 2010 के एक नीतिगत फैसले को लागू करने से ‘‘बिना चौकीदार वाले फाटक (यूएमएलसी) से मुक्त क्षेत्र’’ बन गया है. इस दौरान ऐसे एक हजार फाटकों को खत्म किया गया. एक विज्ञप्ति में उसने कहा, ‘‘दक्षिण रेलवे में पालक्काड, तिरूवनंतपुरम और चेन्नई डिवीजन चालू वर्ष की पहली तिमाही के दौरान यूएमएलसी मुक्त हो गए थे.’’ 

यह भी पढ़ें: चोर यात्रियों से इंडियन रेलवे परेशान: यात्रियों के टॉवल-चादर चोरी करने से पश्चिमी रेलवे को हुआ इतने करोड़ का नुकसान

इसमें कहा गया कि दक्षिण रेलवे के सिस्टम में एक सितंबर 2017 को 311 यूएमएलसी थे, जिन्हें रेल मंत्री पीयूष गोयल के निर्देश के मुताबिक, इस सितंबर तक खत्म करने का लक्ष्य रखा गया था. इसमें कहा गया, ‘‘इसी के मुताबिक, 30 सितंबर 2018 को दक्षिण रेलवे ने 311 बाकी बचे यूएमएलसी को खत्म कर दिया. 


यह भी पढ़ें: राजधानी, शताब्दी और दूरंतों ट्रेनों में फ्लेक्सी फेयर पर PAC ने लिया यह फैसला

टिप्पणियां

इसके साथ ही जोन में सभी बिना चौकीदार वाले फाटक खत्म हो गये, जिससे सुरक्षा में इजाफा हुआ.’’

VIDEO: सिंपल समाचार : रेलगाड़ी या फेलगाड़ी?


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement