NDTV Khabar

भूमि अतिक्रमण मामले में सतर्कता अदालत ने थॉमस चांडी के खिलाफ जांच के आदेश दिए

विशेष सतर्कता अदालत ने ब्यूरो को एक महीने के भीतर अपनी रिपोर्ट सौंपने का निर्देश दिया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
भूमि अतिक्रमण मामले में सतर्कता अदालत ने थॉमस चांडी के खिलाफ जांच के आदेश दिए

केरल के परिवहन मंत्री थॉमस चांडी. (फाइल फोटो)

कोट्टायम (केरल): राज्य सतर्कता एवं भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो को एक अदालत ने यह पता लगाने का आदेश दिया कि क्या केरल के परिवहन मंत्री थॉमस चांडी ने अलाप्पुझा जिले में अपने एक लेक रिजॉर्ट तक धान के खेतों से होकर सड़क बनाने में नियमों का उल्लंघन किया था.

यह भी पढ़ें : बीजेपी ने भ्रष्टाचार निरोधक इकाई में सीएम सिद्धारमैया के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई

टिप्पणियां
विशेष सतर्कता अदालत के न्यायाधीश वी. दिलीप ने एक अधिवक्ता की याचिका पर ब्यूरो को निर्देश दिया कि वह एक महीने के भीतर अपनी रिपोर्ट सौंपे. न्यायाधीश ने राज्य सरकार के इस तर्क को भी खारिज कर दिया कि चांडी ने धान के खेतों में अवैध रूप से 'लैंड फिलिंग' नहीं की. अधिवक्ता सुभाष ने अपनी याचिका में आरोप लगाया कि चांडी ने अपने नेतृत्व वाली वाटर वर्ल्ड कंपनी के लेक पैलेस रिजॉर्ट तक सड़क निर्माण के लिए धान के खेतों के बीच से एक किलोमीटर पट्टी पर अवैध रूप से 'लैंड फिलिंग' की.

उन्होंने अदालत को अलाप्पुझा जिला कलेक्टर टीवी अनुपमा द्वारा तैयार की गई एक रिपोर्ट भी सौंपी. इसमें कहा गया है कि चांडी के स्वामित्व वाले लेक रिजॉर्ट ने नियमों का उल्लंघन किया. 
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement