पत्रकारिता में योगदान के लिए अफशां अंजुम को महिला दिवस पर किया गया सम्‍मानित

एनडीटीवी की स्पोर्ट्स एडिटर अफ़शां अंजुम को महिला दिवस पर पत्रकारिता में अपने योगदान के लिए सम्मानित किया गया. ये अवॉर्ड्स ह्यूमैनिटी ए हेल्पिंग हैंड नाम की एनजीओ और आदित्य बिड़ला मेमोरियल हॉस्पिटल ने आयोजित किए.

पत्रकारिता में योगदान के लिए अफशां अंजुम को महिला दिवस पर किया गया सम्‍मानित

एनडीटीवी की स्पोर्ट्स एडिटर अफ़शां अंजुम को महिला दिवस पर किया गया सम्‍मानित

पुणे:

एनडीटीवी की स्पोर्ट्स एडिटर अफ़शां अंजुम को महिला दिवस पर पत्रकारिता में अपने योगदान के लिए सम्मानित किया गया. ये अवॉर्ड्स ह्यूमैनिटी ए हेल्पिंग हैंड नाम की एनजीओ और आदित्य बिड़ला मेमोरियल हॉस्पिटल ने आयोजित किए.

इस मौक़े पर देशभर की 26 महिलाओं को अपनी-अपनी फ़ील्ड में निष्ठा और कर्मठता के लिए ये पुरस्कार दिए गए. पुरस्कार पाने वालों में सामाजिक कार्यकर्ता तीस्ता सेतलवाड, गायिका कविता सेठ, वायलनिस्ट अनुप्रिया देवतले, रेडियो जॉकी श्रुति और मशहूर महिला पायलट मोहिनी श्रॉफ़ शामिल हैं.

अफ़शां अंजुम पिछले 15 साल से एनडीटीवी इंडिया की प्रमुख स्पोर्ट्स एंकर हैं. इस दौरान वो 2003, 2007, 2011 और 2015 आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप की एंकरिंग एवं रिपोर्टिंग करती रही हैं. पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू के साथ उनके कार्यक्रम क़िस्सा क्रिकेट का को दर्शकों ने काफ़ी सराहा. इसके अलावा वो पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर, वीवीएस लक्ष्मण, राहुल द्रविड़ और पूर्व पाकिस्तानी कप्तान इमरान ख़ान जैसे दिग्गजों के साथ क्रिकेट के कार्यक्रम एंकर करती रही हैं.

ह्यूमैनिटी फ़ाउडेशन ने महिला दिवस के मौक़े पर उन महिलाओं को अवॉर्ड के लिए चुना जिन्होने अपनी फ़ील्ड मे ना सिर्फ़ एक पहचान बनाई बल्कि दूसरी महिलाओं और युवाओं के लिए मिसाल क़याम करते हुए नए रास्ते खोले. ये एनजीओ मुंबई मे फ़र्ज़ ख़ान चलाते हैं जिन्हें आदित्य बिड़ला ग्रुप का समर्थन हासिल है. ह्यूमैनिटी फ़ाउडेशन महिलाओं की पढ़ाई, रोज़गार और स्वास्थ से जुड़े काम करती है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com