NDTV Khabar

एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप : बजरंग पुनिया ने गोल्ड मेडल जीता, पीएम नरेंद्र मोदी ने दी बधाई

भारतीय कुश्ती जगत के लिए शनिवार का दिन स्वर्णिम रहा. एशियाई कुश्ती चैम्पियनशिप में शानिवार को भारत के लिए बजरंग पुनिया ने गोल्ड मेडल जीत लिया. उन्होंने फ्रीस्टाइल के 65 किग्रा वर्ग में यह कीर्तिमान दक्षिण कोरिया के ली सुंग चुल को हराकर रचा.

914 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप : बजरंग पुनिया ने गोल्ड मेडल जीता, पीएम नरेंद्र मोदी ने दी बधाई

बजरंग पुनिया ने फ्रीस्टाइल कुश्ती में गोल्ड जीता है (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. भारतीय कुश्ती जगत के लिए शनिवार का दिन स्वर्णिम रहा.
  2. पुरुष 65 किग्रा के फाइनल मुकाबले में बजरंग ने चुल को 6-2 से हराया.
  3. बजरंग को 6-2 से जीत हासिल हो गई.
नई दिल्ली: भारतीय कुश्ती जगत के लिए शनिवार का दिन स्वर्णिम रहा. एशियाई कुश्ती चैम्पियनशिप में शानिवार को भारत के लिए बजरंग पुनिया ने गोल्ड मेडल जीत लिया. उन्होंने फ्रीस्टाइल के 65 किग्रा वर्ग में यह कीर्तिमान दक्षिण कोरिया के ली सेयुंग-चुल को हराकर रचा. हालांकि महिला वर्ग में भारत को निराशा हाथ लगी, जब सरिता फाइनल में हार गईं.
 
पुरुष 65 किग्रा के फाइनल मुकाबले में बजरंग ने चुल को 6-2 से हराया. खराब शुरुआत के बाद बजरंग ने शानदार वापसी की. मुकाबला अंतिम राउंड तक गया. आखिरकार बजरंग को 6-2 से जीत हासिल हो गई.

बजरंग पुनिया के गोल्‍ड मेडल जीतने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर उन्‍हें बधाई दी है. पीएम मोदी ने ट्वीट किया, ''एशियाई कुश्ती चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक जीतने के लिए बजरंग पूनिया को बधाई. भारत को उनकी इस बेहतरीन उपलब्धि पर बेहद गर्व है''.
 
इससे पहले उन्होंने दिन में सेमीफाइनल दौर में शानदार प्रदर्शन करते हुए 65 किग्रा वजन वर्ग में कुकगवांग किम को मात देते हुए फाइनल में जगह बनाई थी. इस कड़े मुकाबले के बीच बजरंग ने किम को 3-2 से हराया था.
 
सरिता हारीं...
दूसरी तरफ महिला 58 किग्रा में भारवर्ग के मुकाबले में सरिता गोल्ड से चूक गईं. उन्हें सिल्वर से ही संतोष करना पड़ा. सरिता को फाइनल में किर्गिस्तान की अईसुलु ट्यानबेकोवा ने 6-0 से मात दी.

इससे पहले सरिता ने भी धमाकेदार प्रदशर्न करते हुए फाइनल का टिकट कटाया था. सरिता ने क्वार्टरफाइनल में उज्बेकिस्तान की आसेम सेदामेतोवा को 10-0 से मात देने के बाद वियतनाम की थि हुओंग दाओ को 12-0 से हराकर फाइनल में अपनी जगह बनाई थी.
 
इसके अलावा 74 किग्रा वर्ग में जितेंद्र ने तुर्कमेनिस्तान के सप्रमिरदोव को 7-0 से हराया, तो वहीं सत्यव्रत कादियान और संदीप पहले दौर में ही हार के साथ बाहर हो गए थे.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
914 Shares
(यह भी पढ़ें)... हां, मुझे मालूम है गुजरात चुनाव का नतीजा

Advertisement