मैच का रुख पलट सकते हैं वीरू, धोनी : हरभजन

खास बातें

  • हरभजन ने कहा कि सहवाग और धोनी को ऐसे खिलाड़ी हैं, जो बॉलरों पर दबाव बनाकर और पावरफुल बैटिंग से मैच का रुख पलटने की क्षमता रखते हैं।
Mumbai:

ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह ने वीरेंद्र सहवाग और कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को भारतीय टीम में ऐसा खिलाड़ी करार दिया है, जो प्रतिद्वंद्वी टीम के गेंदबाजों पर दबदबा बनाकर और पावरफुल बल्लेबाजी से मैच का रुख पलटने की क्षमता रखते हैं। हरभजन ने कहा, हमारी टीम में ऐसे कई खिलाड़ी हैं, जो मैच का रुख पलटने की क्षमता रखते हैं। वीरेंद्र सहवाग इनमें से एक हैं। हर बार वह बल्लेबाजी करने जाता है, तो हमें पता रहता है कि वह सभी गेंदबाजों पर दबदबा बनाएगा। उसने मुश्किल हालातों में हमारे लिए मैच का रुख बदला है। इस ऑफ स्पिनर ने पेप्सी के आगामी विश्व कप अभियान चेंज द गेम में कहा, महेंद्र सिंह धेनी भी एक ऐसा क्रिकेटर है जिसकी अपनी तकनीक है। उसके शॉट में मैदान के चारों ओर गेंद हिट करने के लिए काफी ऊर्जा है। हमारी टीम ये दोनों ऐसे खिलाड़ी हैं, जो मैच का रुख पलट सकते हैं। हरभजन ने अपने दूसरा के लिए पाकिस्तान के ऑफ स्पिनर सकलैन मुश्ताक को प्रेरणास्रोत बताया, जिसकी बदौलत वह अपने करियर में कई खिलाड़ियों को अपना शिकार बना चुके हैं। हरभजन ने कहा, जब मैं बच्चा था और चंडीगढ़ में अभ्यास करता था तो मैं सकलैन मुश्ताक को दूसरा फेंकते हुए देखा करता था। मैं उन्हें ध्यान से देखता था और परफेक्ट गेंद फेंकने की कला हासिल की। उन्होंने कहा, मैं अपने साथी अरुण वर्मा (विकेटकीपर) के साथ काफी कड़ा अभ्यास करता था और अपनी तकनीक से गेंदबाजी करता था। इस विकेट हासिल करने वाली गेंद के लिए मैंने काफी मेहनत की है। हरभजन ने कहा, मुझे याद है कि दूसरा ने मेरे लिए नहीं, बल्कि भारत के लिए काफी बार मैच का रुख बदला है। मुझे याद है जब हम कोलकाता में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेल रहे थे और वे हमारे गेंदबाजों की धज्जियां उड़ा रहे थे। मैंने अचानक पोंटिंग को दूसरा गेंद फेंकी और वह पगबाधा आउट हो गया। यह 30 वर्षीय खिलाड़ी टेस्ट क्रिकेट में 400 विकेट हासिल करने से केवल सात विकेट दूर है। उन्होंने कहा, मैंने इसी मैच में भारत के लिए अपनी पहली हैट्रिक (पोंटिंग, एडम गिलक्रिस्ट और शेन वार्न) हासिल की थी। निश्चित रूप से इससे मैच का रुख पलट गया था।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com