NDTV Khabar

रियो में पत्रकारों की बस पर हमला, गोली चलने की आशंका, किसी को गंभीर चोट नहीं

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
रियो में पत्रकारों की बस पर हमला, गोली चलने की आशंका, किसी को गंभीर चोट नहीं

बस पर हमला...

खास बातें

  1. बुलेट से हमले की आशंका
  2. पत्रकार को मामूली चोटें
  3. शनिवार को भी हुआ था प्रेस सेंटर पर हमला
रियो डी जेनेरियो:

रियो ओलिंपिक में कवरेज के लिए आए पत्रकारों की बस पर आज हमला हो गया, जिसमें दो खिड़कियां बुरी तरह टूट गईं. अभी यह साफ नहीं हुआ है कि यह हमला बुलेट से किया गया या पत्थरों से. इस घटना में किसी को गंभीर चोट नहीं आई.

आयोजन समिति के प्रवक्ता मारियो ने एपी से कहा, अभी तक यह नहीं पता चला है कि बस पर गोली चलाई गई या पत्थर फेंके गए. इस घटना में सफर कर रहे 12 पत्रकारों को मामूली चोटें आई हैं.

ब्रिटिश न्यूज एजेंसी प्रेस एसोसिएशन के पत्रकार डेविड डेविस ने एपी को बताया कि एक किस्म का शोर सुनाई दिया और लगा कि जैसे कोई चीज बस की खिड़की से टकराई है. इससे लेफ्ट में दो छेद हो गए जिसे देखकर लग रहा था जैसे गोली के हों.

एएफपी के मुताबिक, इस घटना में बेलारूस के एक पत्रकार के हाथ में चोट आई है. गैस्टन सेंज अर्जेंटीना के दैनिक अखबार La Nacion के लिए काम करते हैं, जो उस समय बस में सवार थे.


शनिवार को भी एक मीडिया सेंटर पर बुलेट से हमला हुआ था, जहां न्यूजीलैंड की टीम ठहरी हुई थी.

टिप्पणियां

सेंज ने बताया कि हमने खुद को जमीन पर गिरा लिया और दो किलोमीटर दूरी पर मौजूद पुलिस आई और सुरक्षाकर्मियों के साथ हम इसी बस की टूटी खिड़कियों के साथ प्रेस सेंटर पहुंचे. यह बस पत्रकारों को डियोडोरो ओलिंपिक से मुख्य प्रेस सेंटर बारा दा तिजुका लेकर जा रही थी.
 

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement