NDTV Khabar

Commonwealth Games 2018: मौजूदा चैंपियन बोलीं, ये खिलाड़ी देंगे भारतीयों को कड़ी टक्कर

एक बात बड़ी साफ है कि इस बार के खेलों में भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी पिछली बार की तुलना में बड़ा धमाल मचा सकते हैं

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Commonwealth Games 2018: मौजूदा चैंपियन बोलीं, ये खिलाड़ी देंगे भारतीयों को कड़ी टक्कर

मिशेल ली ने पीवी सिंधु को खिताब का दावेदार बताया है

खास बातें

  1. गोल्ड कोस्ट में बना खेलों का माहौल
  2. वर्तमान कॉमनवेल्थ चैंपियन हैं मिशेल ली
  3. मैं केवल अपना अच्छा प्रदर्शन करना चाहती हूं-मिशेल ली
नई दिल्ली: कनाडा की बैडमिंटन खिलाड़ी और कॉमनवेल्थ गेम्स में महिला एकल वर्ग की मौजूदा विजेता मिशेल ली का कहना है कि वह इस बार अपना खिताब बचाने को लेकर आश्वस्त नहीं हैं लेकिन वह यह जरूर मानती हैं कि इस साल भारतीय महिला खिलाड़ियों की धूम रहेगी. ली ने 2014 में ग्लास्गो में आयोजित हुए कॉमनवेल्थ गेम्स में स्कॉटलैंड की क्रिस्टी गिलमोर को हराकर खिताबी जीत हासिल की थी. गोल्ड कोस्ट में चार अप्रैल से शुरू हो रहे  कॉमनवेल्थ गेम्स की आधिकारिक वेबसाइट 'गोल्ड कोस्ट-2018' पर जारी बयान में ली ने कहा कि मैं अपने खिताब को बचाए रखने के बारे में अधिक नहीं सोचना चाहती. मैं केवल अपना अच्छा प्रदर्शन करना चाहती हूं. अगर मैं ऐसा करने में कामयाब रही, तो अपने परिणाम से संतुष्ट रहूंगी. 

यह भी पढ़ें:  इसलिए कॉमनवेल्थ गेम्स को लेकर पीवी सिंधु खुद पर दबाव नहीं बनाना चाहतीं

टिप्पणियां
उन्होंने कहा कि इस साल मेरा लक्ष्य अपने प्रदर्शन में सुधार करना है. मुझे लगता है कि मैं खिताब बरकरार रखने पर अधिक ध्यान नहीं दे पा रही हूं. अभी इस समय सभी चीजें सीखने वाली प्रक्रिया में हैं और मुझे लगता है कि टोक्यो में 2022 ओलंपिक खेलों से पहले यह अच्छे परिणाम जरूर देंगे. कॉमनवेल्थ गेम्स में होने वाली बैडमिंटन प्रतियोगिता में ली न केवल महिला एकल वर्ग में, बल्कि ब्रायन के साथ मिक्स्ड डबल्स वर्ग और मिक्स्ड टीम वर्ग में भी हिस्सा लेंगी। 

VIDEO: अब जबकि खेल शुरू होने में महज दो दिन बचे हैं, तो खेलप्रेमियों में उत्साह साफ तौर पर देखा जा सकता है ली के मुताबिक रियो ओलंपिक की रजत पदक विजेता पी.वी. सिंधु के अलावा भारत की महिला बैडमिंटन खिलाड़ी सायना नेहवाल, मलेशिया की सोनिया ची और स्कॉटलैंड की गिलमोर भी मजबूत प्रतिस्पर्धी साबित हो सकती हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement