NDTV Khabar

CWG 2018: इतने अंकों से अंकुर मित्तल से कांस्य की दौड़ में पिछड़ गए भारत के ही अशब मोहम्मद, मिला चौथा स्थान

अंकुर ने 53 अंक हासिल करते हुए तीसरा स्थान हासिल कर कांस्य पदक जीता, तो एक अन्य भारतीय निशानेबाज अशब मोहम्मद हाथ मलते रह गए

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
CWG 2018: इतने अंकों से अंकुर मित्तल से कांस्य की दौड़ में पिछड़ गए भारत के ही अशब मोहम्मद, मिला चौथा स्थान

अंकुर मित्तल

खास बातें

  1. एक समय अंकुर पर भारी पड़ रहे थे अशब
  2. क्वालिफिकेशन राउंड में भी किया अंकुर से बेहतर स्कोर
  3. आखिर में अंकुर से पूरे दस अंक पिछड़ गए
गोल्ड कोस्ट: भारत के 26 वर्षीय निशानेबाज अंकुर मित्तल ने 21वें राष्ट्रमंडल खेलों में बुधवार को सातवें दिन पुरुषों की डबल ट्रैप स्पर्धा का कांस्य पदक अपने नाम किया. अंकुर ने 53 अंक हासिल करते हुए तीसरा स्थान हासिल कर कांस्य पदक जीता, तो एक अन्य भारतीय निशानेबाज अशब मोहम्मद हाथ मलते रह गए.
  इस स्पर्धा में स्कॉटलैंड के 21 साल के निशानेबाज डेविड मेक्मेथ ने स्वर्ण पदक जीता और साथ ही इस स्पर्धा में राष्ट्रमंडल खेलों का नया रिकॉर्ड भी बनाया. उन्होंने 74 अंक हासिल किए.
  आइल ऑफ मैन के टिम नील ने रजत पदक पर कब्जा जमाया. उन्होंने मेक्मेथ से चार अंक पीछे रहते हुए 70 अंकों के साथ दूसरा स्थान हासिल किया. इससे पहले, क्वालिफिकेशन में शीर्ष-6 निशानेबाज ही फाइनल में प्रवेश कर सकते थे.

नोट: यह ट्वीट बताता है कि एक समय अंकुर अशब से कितने ज्यादा पिछड़े हुए थे.
यह भी पढ़ें : CWG 2018: इस स्कोर के साथ श्रेयसी सिंह ने जीता गोल्ड, वर्षा रमन एक प्वाइंट से कांस्य से चूकीं

ऐसे में 27 निशानेबाजों के बीच अशब और अंकुर ने फाइनल में पहुंचने के साथ ही स्वयं को पदक की दौड़ में बनाए रखा. अशब ने क्वालिफिकेशन में 137 अंक हासिल करने के साथ ही शूट-ऑफ में पांच अंक हासिल किए, वहीं अंकुर ने 133 अंक हासिल किए.मतलब यह कि क्वालिफिकेशन में अशब का स्कोर ज्यादा था. 

टिप्पणियां
VIDEO:  कुछ दिन पहले ही भारतीय हॉकी कप्तान रानी रामपाल ने एनडीटीवी से बात की थी. 
इस क्वालिफिकेशन में स्कॉटलैंड के डेविड मेक्मेथ ने 137 अंकों के साथ शूट-ऑफ में छह अंक लिए और पहला स्थान हासिल किया. भारत के अशब मोहम्मद ने डबल ट्रैप में चौथा स्थान हासिल किया. उनकी कांस्य के लिए भारत के ही अंकुर मित्तल से रेस चल रही थी. आखिर में वह अंकुर से 10 अंकों से पिछड़ गए. और उनकी गाड़ी 43 अंक पर ही अटक गई.

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement