फुटबॉल : यूनान से ड्रॉ खेलकर क्रोएशिया ने फीफा वर्ल्‍डकप के लिये क्वालीफाई किया

क्रोएशिया ने यूनान को गोलरहित ड्रॉ पर रोककर 2018 वर्ल्‍डकप फुटबॉल के लिए क्वालीफाई कर लिया. क्रोएशिया का यह पांचवां वर्ल्‍डकप होगा जो 2010 में क्वालीफाई करने में नाकाम रहा था. टीम के कोच ज्लाटको डालिच ने कहा,‘पिछला मैच अच्छा था लेकिन यह कठिन मैच रहा. यदि पहले चरण में एक गोल से जीत न मिली होती तो हमारे लिए बहुत मुश्किल हो जाती.’

फुटबॉल : यूनान से ड्रॉ खेलकर क्रोएशिया ने फीफा वर्ल्‍डकप के लिये क्वालीफाई किया

प्रतीकात्‍मक फोटो

खास बातें

  • गोलरहित बराबरी पर समाप्‍त हुआ मैच
  • पांचवी बार वर्ल्‍डकप में खेलेगा क्रोएशिया
  • वर्ष 2010 में नहीं कर पाया था क्‍वालीफाई
पिराइयस ( यूनान ):

क्रोएशिया ने यूनान को गोलरहित ड्रॉ पर रोककर 2018 वर्ल्‍डकप फुटबॉल के लिए क्वालीफाई कर लिया. क्रोएशिया का यह पांचवां वर्ल्‍डकप होगा जो 2010 में क्वालीफाई करने में नाकाम रहा था. टीम के कोच ज्लाटको डालिच ने कहा,‘पिछला मैच अच्छा था लेकिन यह कठिन मैच रहा. यदि पहले चरण में एक गोल से जीत न मिली होती तो हमारे लिए बहुत मुश्किल हो जाती.’

यह भी पढ़ें:मैच के दौरान समलैंगिकता पर नारेबाजी, ब्राजील फुटबॉल परिसंघ पर जुर्माना

गौरलब है कि रूस में अगले साल होने वाले फीफा वर्ल्‍डकप की इनामी धनराशि 12 फीसदी बढ़ाकर 400 मिलियन अमेरिकी डॉलर (लगभग 2603 करोड़ रुपए) कर दी गई है. फीफा काउंसिल की बैठक में यह निर्णय लिया गया है. 2014 के संस्करण के लिए इनामी धनराशि 358 मिलियन अमेरिकी डॉलर (लगभग 2329 करोड़ रुपए) थी. फीफा अध्यक्ष गियानी इंफेंटिनो की अगुआई में हुई इस बैठक में और भी कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए थे.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वीडियो: नेमार के गोल से ब्राजील ने ओलिंपिक का गोल्‍ड जीता

काउंसिल ने 2026 के वर्ल्‍डकप के लिए बोली लगाने के नियम बनाने के फैसले में भी सुधार किया है. काउंसिल ने फीफा की सामाजिक विकास संबंधी गतिविधियों के लिए फीफा फाउंडेशन की स्थापना की घोषणा की. फीफा फाउंडेशन 2018 की पहली तिमाही तक परिचालन शुरू कर देगा और इसमें प्रारंभिक रूप से फीफा अध्यक्ष और फीफा परिषद के दो सदस्य शामिल होंगे. बाद में फीफा की ओर से फुटबॉल और समाज के अन्य क्षेत्रों से विशिष्ट लोगों की नियुक्ति की जाएगी, जो फाउंडेशन बोर्ड के अतिरिक्त सदस्य के रूप में शामिल किए जाएंगे.