राष्ट्रमंडल खेल महज एक पड़ाव, मेरा लक्ष्य विश्व चैम्पियनशिप में जीत: हीना सिद्धू

देश की शीर्ष पिस्टल निशानेबाज हीना सिद्धू का मुख्य लक्ष्य विश्व चैम्पियनशिप हैं और वह बड़े टूर्नामेंट में सफलता हासिल करने के लिए आगामी राष्ट्रमंडल खेलों को पहली सीढ़ी के तौर पर ले रही हैं.

राष्ट्रमंडल खेल महज एक पड़ाव, मेरा लक्ष्य विश्व चैम्पियनशिप में जीत: हीना सिद्धू

हीना सिद्धू एयर पिस्टल में दुनिया की नंबर एक निशानेबाज रह चुकी हैं (फाइल फोटो)

खास बातें

  • हीना ने कहा, मेरी ट्रेनिंग बढ़ि‍या चल रही है
  • राष्‍ट्रमंडल खेल होते हैं ओलिंपिक की तैयारी में मददगार
  • एक समय दुनिया की नंबर एक शूटर थीं हीना
नई दिल्ली:

देश की शीर्ष पिस्टल निशानेबाज हीना सिद्धू का मुख्य लक्ष्य विश्व चैम्पियनशिप हैं और वह बड़े टूर्नामेंट में सफलता हासिल करने के लिए आगामी राष्ट्रमंडल खेलों को पहली सीढ़ी के तौर पर ले रही हैं. हीना ने कहा, ‘ये खेल काफी अहम हैं. राष्ट्रमंडल और एशियाई खेल आपको ओलिंपिक की तैयारियों में मदद करते हैं. यह काफी अहम वर्ष है और मेरे लिये सबसे बड़ी चुनौती विश्व चैम्पियनशिप है.’एयर पिस्टल में दुनिया की पूर्व नंबर एक निशानेबाज हीना ने कहा, ‘ट्रेनिंग काफी बढ़िया चल रही है और हमने काफी कुछ हासिल किया है. यह बाकी टूर्नामेंट, विशेषकर विश्व चैम्पियनशिप के लिये पहली सीढ़ी की तरह है.’

यह भी पढ़ें: हीना सिद्धू ने राष्‍ट्रमंडल चैंपियनशिप में जीता स्‍वर्ण पदक

हाल में खेल मंत्रालय ने गोल्ड कोस्ट जाने वाले दल से गैर एथलीटों को भारतीय ओलिंपिक संघ की सूची से हटा दिया जिसमें उनके पति और कोच रौनक पंडित सहित 21 नाम शामिल हैं. यह पूछने पर कि क्या इससे उनका ध्यान भटकेगा तो विश्व कप फाइनल्स की स्वर्ण पदकधारी ने कहा, ‘मुझे नहीं लगता कि इस तरह के मुद्दों से मेरी ट्रेनिंग पर असर पड़ेगा. जो कुछ हुआ, उससे मैं चिंतित नहीं हूं और मैं सिर्फ अपनी ट्रेनिंग पर ही ध्यान लगाए हूं.’

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वीडियो: मशहूर शूटर अभिनव बिंद्रा से बातचीत पता चला है कि रौनक का नाम बाद में शामिल कर लिया गया है. एशियाई और राष्ट्रमंडल खेलों की पदकधारी निशानेबाज ने कहा, ‘रौनक मेरे कोच भी हैं और पिछले छह वर्षों से मुझे ट्रेनिंग करा रहे हैं.’