NDTV Khabar

बैडमिंटन: डेनमार्क ओपन में कल अपने अभियान का आगाज करेंगे सिंधु, श्रीकांत सहित भारतीय दिग्‍गज

साइना नेहवाल, पीवी सिंधु, किदांबी श्रीकांत और एचएस प्रणय जैसे दिग्गज भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी डेनमार्क ओपन की चुनौती के लिए तैयार हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बैडमिंटन:  डेनमार्क ओपन में कल अपने अभियान का आगाज करेंगे सिंधु, श्रीकांत सहित भारतीय दिग्‍गज

किदांबी श्रीकांत का सामना पहले दौर में क्वालीफायर खिलाड़ी से होगा (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. पहले मैच में 10वीं रैंकिंग की युफेई से भिड़ेंगी सिंधु
  2. श्रीकांत का सामना क्‍वालिफायर खिलाड़ी से होगा
  3. साइना का मुकाबला स्‍पेन की कैरालिना मॉरिस से होगा
ओडिन्से (डेनमार्क): साइना नेहवाल, पीवी सिंधु, किदांबी श्रीकांत और एचएस प्रणय जैसे दिग्गज भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी डेनमार्क ओपन की चुनौती के लिए तैयार हैं. मंगलवार से टूर्नामेंट की शुरुआत हो चुकी है, लेकिन ये दिग्गज भारतीय खिलाड़ी अपने सफर की शुरुआत बुधवार को करेंगे. सिंधु और साइना के लिए इस टूर्नामेंट की शुरुआत ही चुनौतीपूर्ण होने वाली है. महिला एकल वर्ग के पहले दौर में सिंधु का सामना जहां एक ओर 10वीं विश्व वरीयता प्राप्त चीनी खिलाड़ी चेन युफेई से होगा, वहीं साइना की भिड़ंत स्पेन की दिग्गज खिलाड़ी और रियो ओलिंपिक की चैंपियन कैरोलिना मॉरिन से होगी.

यह भी पढ़ें : पुरुष बैडमिंडन रैंकिंग में किदांबी श्रीकांत 8वें स्थान पर बरकरार

साइना ने 2012 में इस टूर्नामेंट में खिताबी जीत हासिल की थी. ऐसे में उनका लक्ष्य दोबारा इस जीत को दोहराना होगा. पुरुष वर्ग में प्रणय और श्रीकांत के लिए पहले दौर के मुकाबले आसान रहेंगे. प्रणय की भिड़ंत 38वीं विश्व वरीयता प्राप्त स्थानीय खिलाड़ी एमिल होल्स्ट से होगी. दोनों का सामना अब तक दो बार एक-दूसरे से हो चुका है और दोनों बार प्रणय को ही जीत हासिल हुई है. श्रीकांत का सामना पहले दौर में क्वालीफायर खिलाड़ी से होगा. हालांकि, इस टूर्नामेंट में शीर्ष वरीयता प्राप्त सोन वान हो, स्थानीय दिग्गज खिलाड़ी आंद्रेस एनतोनसेन, शी युकी जैसे खिलाड़ियों के शामिल होने के कारण उनके लिए खिताबी जीत हासिल करना आसान नहीं होगा.

टिप्पणियां
वीडियो: वर्ल्‍ड बैडमिंटन चैंपियनशिप में मेडल जीतकर लौटीं पीवी सिंधु
श्रीकांत ने इस टूर्नामेंट के लिए अपनी तैयारी पुख्ता रखी है. उन्‍होंने बताया, "मैं पिछले तीन सप्ताह से इस टूर्नामेंट के लिए कठिन अभ्यास कर रहा हूं और आशा है कि वह इस में फलदायक होगा." इस टूर्नामेंट को दिग्गज पूर्व बैडमिंटन खिलाड़ी प्रकाश पादुकोण ने 1979 और 1980 में दो बार जीता था. उनके अलावा कोई भी भारतीय पुरुष खिलाड़ी इसमें खिताबी जीत हासिल नहीं कर पाया है. ऐसे में श्रीकांत, प्रणय सहित बी. साई प्रणीत का लक्ष्य भी खिताबी जीत होगा. महिला युगल वर्ग में अश्विनी पोनप्पा और एन. सिक्की रेड्डी भारत का प्रतिनिधित्व करेंगी, वहीं पुरुष युगल वर्ग में मनु अत्री और बी. सुमिथ रेड्डी प्रतिस्पर्धा करेंगे. भारतीय बैडमिंटन जगत में कई नए उबरते खिलाड़ी क्वालिफिकेशन से इस टूर्नामेंट के मुख्य ड्रॉ में जगह बनाने के लिए प्रयास कर रहे हैं.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement