NDTV Khabar

जापानी खिलाड़ी ने तोड़ा सिंधु का दुबई सुपर सीरीज फाइनल्स खिताब जीतने का सपना

भारतीय बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधु दुबई सुपर सीरीज फाइनल्स के खिताबी मुकाबले में हार गईं. उन्हें जापान की अकाने यामागुची को तीन सेट तक चले बेहद रोमांचक मुकाबले में 21-15,12-21,19-21 से हराकर खिताब जीता. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जापानी खिलाड़ी ने तोड़ा सिंधु का दुबई सुपर सीरीज फाइनल्स खिताब जीतने का सपना

भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु.

खास बातें

  1. जापानी खिलाड़ी अकाने यामागुची ने जीता दुबई खिताब
  2. सिंधु ने सेमीफाइनल में चीन की चेन यूफेई को हराया था
  3. यामागुची ने सेमीफाइनल में रत्चानोक इंतानोन को हराया था
दुबई: भारतीय बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधु दुबई सुपर सीरीज फाइनल्स के खिताबी मुकाबले में हार गईं. उन्हें जापान की अकाने यामागुची को तीन सेट तक चले बेहद रोमांचक मुकाबले में 21-15,12-21,19-21 से हराकर खिताब जीता.  

यह भी पढ़ें : कॉमिक बुक के जरिए अपनी कहानी साझा करने को उत्सुक हैं पीवी सिंधु

इससे पहले सिंधु ने सेमीफाइनल मुकाबले में चीन की चेन यूफेई को सीधे गेम में हराकर फाइनल में जगह बनाई थी. दुनिया की तीसरे नंबर की खिलाड़ी सिंधु ने आठवें नंबर की चीन की खिलाड़ी को 59 मिनट में 21-15, 21-18 से हराया था. वहीं, दुनिया की दूसरे नंबर की खिलाड़ी और शीर्ष वरीय जापान की अकाने यामागुची ने एक अन्य सेमीफाइनल में थाईलैंड की रत्चानोक इंतानोन को कड़े मुकाबले में 17-21, 21-12, 21-19 से हराकर खिताबी मुकाबले में प्रवेश किया था.

यह भी पढ़ें : साल का समापन खिताबी जीत के साथ करना चाहती हैं पीवी सिंधु

यह किसी बड़े टूर्नामेंट के फाइनल में सिंधु की तीसरी हार है. वह पिछले साल रियो ओलंपिक और इस साल ग्लास्गो विश्व चैंपियनशिप के फाइनल में हार गईं थीं. इस मैच से पहले सिंधु का यामागुची के खिलाफ रिकार्ड 5-2 था. इनमें शुक्रवार को ग्रुप चरण के आखिरी मैच की जीत भी शामिल थी, लेकिन आज भारतीय खिलाड़ी वैसा कमाल नहीं दिखा पाईं. यामागुची ने बेहतर खेल का नजारा पेश किया और वह दमखम के मामले में भी सिंधु से बेहतर साबित हुई.

VIDEO : वर्ल्ड बैडमिंटन में सिल्वर मेडल जीतकर घर लौटीं सिंधु


टिप्पणियां
इस साल अपना चौथा सुपर सीरीज फाइनल खेल रही 22 वर्षीय सिंधु इस तरह से साइना नेहवाल से आगे निकलने में नाकाम रहीं. साइना ने 2011 में फाइनल में जगह बनाई थी, लेकिन उन्हें भी अपनी हमवतन भारतीय की तरह रजत पदक से संतोष करना पड़ा था. ज्वाला गट्टा और वी दीजू की मिश्रित युगल जोड़ी भी 2009 में उप विजेता रही थी. सिंधु ने इस साल इंडिया ओपन और कोरिया ओपन के रूप में दो सुपर सीरीज खिताब जीते थे. इसके अलावा वह हांगकांग ओपन और विश्व चैंपियनशिप के फाइनल में भी पहुंची थी. 

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement