NDTV Khabar

फीफा यू-17 विश्व कप: तीसरे स्थान के लिए ब्राजील-माली में भिड़ंत

फीफा अंडर-17 विश्व में तीसरे स्थान के लिए ब्राजील और माली की टीमें आज यहां के साल्ट लेक स्टेडियम में एक दूसरे का सामना करेंगी.

37 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
फीफा यू-17 विश्व कप: तीसरे स्थान के लिए ब्राजील-माली में भिड़ंत

प्रतीकात्मक फोटो

खास बातें

  1. फीफा यू-17 विश्व कप: तीसरे स्थान के लिए ब्राजील-माली में भिड़ंत
  2. ब्राजील तीन बार इस विश्व कप का खिताब जीत चुकी है
  3. माली को सेमीफाइनल में स्पेन से शिकस्त खानी पड़ी थी
कोलकाता: फीफा अंडर-17 विश्व में तीसरे स्थान के लिए ब्राजील और माली की टीमें आज यहां के साल्ट लेक स्टेडियम में एक दूसरे का सामना करेंगी. इस मैच के बाद इसी मैदान पर स्पेन और इंग्लैंड के बीच खिताबी भिड़ंत होगी. ब्राजील को इंग्लैंड ने सेमीफाइनल में मात दी थी. माली को सेमीफाइनल में स्पेन से शिकस्त खानी पड़ी थी.ब्राजील तीन बार इस विश्व कप का खिताब जीत चुकी है, वहीं माली को पिछले संस्करण में उपविजेता के तमगे से ही संतोष करना पड़ा था. 

यह भी पढें: फीफा अंडर-17 विश्व कप फाइनल में पानी का पैकेट नहीं ले जा सकेंगे दर्शक

ब्राजील की ताकत उसकी गेंद को पास करने की शानदार क्षमता है जिसके जरिए वह लगातार अपनी विपक्षी टीम पर आक्रमण करती है. वह काफी हद तक अपने स्ट्राइकर पाउलिंहो और लिंकन पर निर्भर करेगी. साथ ही अलन के कंधों पर ही अहम जिम्मेदारी होगी. इन तीनों के अलावा वेस्ले और वेवेरसन भी माली के लिए खतरा साबित हो सकते हैं. वहीं, अपने कोच जोनस कोमला के मार्गदर्शन में माली ने अपने खेल से सभी को प्रभावित किया है. आकंड़ों को अगर देखा जाए तो माली की आक्रमण पंक्ति इस टूर्नामेंट में सर्वश्रेष्ठ रही है. माली ने इस टूर्नामेंट में 157 आक्रमण किए हैं.

यह भी पढें: अब गोल करने के बााद अपने प्रशंसकों के साथ जश्न नहीं मना पाएगी ब्राजील की टीम, फीफा ने दी चेतावनी

लेकिन, ब्राजील के गोलकीपर गेब्रिएल ब्राजाओ से पार पाना उसके लिए आसान नहीं होगा, जिन्होंने अभी तक शानदार गोलकीपिंग करते हुए 19 बचाव किए हैं. माली की आक्रमण पंक्ति की जिम्मेदारी लसाना डियाए पर होगी. वह अभी तक छह गोल के साथ गोल्डन बूट की दौड़ में बने हुए हैं. उनके अलावा ब्राजील की रक्षापंक्ति को हादजी ड्रेम, जेमोउसा ट्राओरे से सावधान रहने की जरूरत होगी. 

टीमें : 

टिप्पणियां
माली : अलकलीफा कोलीबैली, बूबकर हैदरा, जेमोउसा ट्रओरे, फोडे कोनाटे, मामदी फोफाना, मोहम्मद कैमारा, हादजी ड्रेम, अब्दुलाए डाबो, सेमे कैमारा, सलाम गिड्डोउ, ममाडोउ ट्राओरे, महामाने टूरे, साउमेलिया डुम्बिया, सियाका सिडिब, अब्दुलाए डियाब, यूसुफ कोइटा, मामाडोउ सामाके, इब्राहिम केन, लसाना डीयाए, चैक ओमर और मास्इिरे गस्सामा।

VIDEO: फीफा में भारतीय कंपनी का योगदान
ब्राजील : गेब्रियल ब्राजाओ, लुकास एलेक्जेंडर, यूरी सेना, वेस्ले, लुयान कैंडिडो, वेवरसन, लुकास हाल्टर, मैथ्यूज स्टॉकल, रोड्रिगो गुथ और विटोर एडुयाडरे, एलानजिंहो, मार्कोस एंटोनियो, रोड्रिगो नेस्टर, विक्टर बॉबसिन, विक्टर यान और विटिंहो, ब्रेनर, लिंकन, पाउलिन्हो और यूरी अल्बटरे।


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement