चोट से उबरकर फिट हुए पी. कश्‍यप की नजरें राष्ट्रमंडल खेलों के लिये क्वालीफाई करने पर

घुटने के ऑपरेशन के कारण रियो ओलिंपिक से बाहर रहे पारूपल्ली कश्यप अब फिट होकर भारतीय टीम में अपनी जगह फिर से पाने के लिए मेहनत कर रहे हैं.

चोट से उबरकर फिट हुए पी. कश्‍यप की नजरें राष्ट्रमंडल खेलों के लिये क्वालीफाई करने पर

घुटने की चोट के कारण पी.कश्‍यप रियो ओलिंपिक में हिस्‍सा नहीं ले पाए थे (फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली:

घुटने के ऑपरेशन के कारण रियो ओलिंपिक से बाहर रहे पारूपल्ली कश्यप अब फिट होकर भारतीय टीम में अपनी जगह फिर से पाने के लिए मेहनत कर रहे हैं और उनकी नजरें 2018 राष्ट्रमंडल खेलों में खिताब बरकरार रखने पर हैं. कश्‍यप को पिछले साल जर्मन ओपन में चोट लगी थी जिससे दूसरा ओलिंपिक खेलने का उनका सपना टूट गया.

इंडिया सुपर सीरीज के दौरान उन्हें पता चला कि वह समय पर ठीक नहीं हो सकेंगे और चार मई की समय सीमा से पहले अपनी रैंकिंग में सुधार नहीं होने के कारण दूसरा ओलिंपिक खेलने का उनका सपना टूट जाएगा. घुटने की चोट से उबरने के बाद जनवरी में प्रीमियर बैडमिंटन लीग के दौरान उनके कंधे में चोट लगी. अब वह पूरी तरह से फिट हैं लेकिन राष्ट्रमंडल खेलों की टीम में जगह पाने के लिये उन्हें अच्छे रैंकिंग अंक चाहिए. उन्होंनेकहा,‘ मेरे लिए यह कठिन समय था. पहले घुटने की चोट से ओलिंपिक खेलने का मेरा सपना टूटा और फिर कंधे में चोट लगी. अब मैं बेहतर महसूस कर रहा हूं और चाइना मास्टर्स ग्रां प्री गोल्ड में अपने प्रदर्शन से खुश हूं.’ उन्होंने कहा,‘ज्यादा खेलकर मेरा प्रदर्शन बेहतर होगा. यह चार महीने में मेरा पहला टूर्नामेंट था और अब मुझे राष्ट्रमंडल खेलों की टीम में चयन के लिये अपनी रैंकिंग में सुधार करना है. मैं राष्ट्रमंडल खेलों में अपना खिताब बरकरार रखना चाहता हूं. यह मुश्किल है लेकिन नामुमकिन नहीं.’

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com