NDTV Khabar

भारतीय पुरुष हाकी टीम ने नीदरलैंड को 2-1 से हराया, सीरीज जीती

गुरजांत सिंह और मनदीप सिंह के गोलों की बदौलत भारतीय पुरुष हाकी टीम ने दुनिया की चौथे नंबर की टीम नीदरलैंड को मात दे दी

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
भारतीय पुरुष हाकी टीम ने नीदरलैंड को 2-1 से हराया, सीरीज जीती

प्रतीकात्मक चित्र

एम्सटर्डम:

गुरजांत सिंह और मनदीप सिंह के गोलों की बदौलत भारतीय पुरुष हाकी टीम ने यहां रोमांचक मुकाबले में दुनिया की चौथे नंबर की टीम नीदरलैंड को 2-1 से हरा दिया. मनप्रीत सिंह की अगुआई वाली टीम में भारत ने कल नौ जूनियर खिलाड़ियों को मौका दिया लेकिन इसके बावजूद नीदरलैंड की अनुभवी टीम को गुरजांत (चौथे मिनट) और मनदीप (51 मिनट) के गोल की बदौलत हराने में सफल रही. भारत ने इस तरह तीन मैचों की सीरीज भी जीत ली. भारत ने शुरुआत से ही मेजबान टीम पर दबदबा बनाया और सकारात्मक इरादे से खेली. भारत को इसका फायदा चौथे ही मिनट में मिला जब पेनल्टी कार्नर पर टीम ने गोल किया.

ड्रैग फ्लिक वरुण कुमार ने ली थी लेकिन उनके शाट को नीदरलैंड के गोलकीपर ने रोक दिया लेकिन रिबाउंड पर गुरजांत ने रिवर्स शाट से गोल दाग दिया. पुरुष टीम की ओर से यह गुरजांत का पहला गोल है. अरमान कुरैशी को भी इसके बाद गोल करने का मौका मिला लेकिन उनका शाट गोल से कुछ दूरी से बाहर निकल गया. दूसरे क्वार्टर की शुरुआत में ही नीदरलैंड को पेनल्टी कार्नर मिला लेकिन भारतीय गोलकीपर आकाश चिक्ते ने शानदार बचाव करते हुए विरोधी टीम के हमले को नाकाम किया. नीदरलैंड ने इसके बाद भारतीय टीम पर दबाव बनाया और तीन पेनल्टी कार्नर हासिल किए लेकिन चिक्ते ने इनमें से किसी पर भी विरोधी टीम को सफलता हासिल नहीं करने दी. मध्यांतर तक भारतीय टीम 1-0 से आगे थी.


नीदरलैंड ने तीसरे क्वार्टर में बराबरी हासिल करने की भरसक कोशिश की लेकिन भारत के मजबूत डिफेंस ने मेजबान टीम को सफलता से महरूम रखा. भारत ने अंतिम 15 मिनट में हमले तेज किए. टीम को पेनल्टी कार्नर मिला लेकिन इस पर गोल नहीं हो सका. अगले ही मिनट में भारत को एक और पेनल्टी कार्नर मिला और इस बार टीम ने अलग संयोजन अपनाया और मनदीप ने शानदार ड्रैगफ्लिक पर गोल दागते हुए भारत को 2-0 से आगे कर दिया.

इसके तुरंत बाद नीदरलैंड को भी पेनल्टी कार्नर मिला लेकिन इस बार पदार्पण कर रहे गोलकीपर सूरज करकेरा ने उसके प्रयास को नाकाम किया. जब मैच में सिर्फ तीन मिनट का खेल बचा था तब नीदरलैंड ने तीन मजबूत हमले किए लेकिन करकेरा ने उन्हें नाकाम कर दिया. मेजबान टीम को हालांकि 58वें मिनट में पेनल्टी कार्नर मिला और इस बार सांडर डि विन ने गोल करने में कई गलती नहीं की लेकिन टीम भारत को 2-1 से जीत दर्ज करने से नहीं रोक पाई.

टिप्पणियां

भारतीय कप्तान मनप्रीत ने सीरीज जीतने के बाद कहा, "मुझे लगता है कि हम सभी विभाग में अच्छा खेले जिससे नीदरलैंड के खिलाफ जीत दर्ज की. वे काफी अनुभवी टीम है जिसके आठ से अधिक खिलाड़ियों को 100 से अधिक मैच खेलने का अनुभव है. इसलिए उन्हें हराने के लिए हमें कुछ विशेष प्रदर्शन करना था." 

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement