Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

Hockey world Cup: भारतीय टीम ने कनाडा को 5-1 से हराया, क्‍वार्टर फाइनल में जगह बनाई

भारतीय टीम ने पूल 'सी' के अपने अंतिम मैच में कनाडा को 5-1 से हराकर हॉकी वर्ल्‍डकप के क्‍वार्टर फाइनल में प्रवेश कर लिया. भारत की इस जीत में चौथे क्‍वार्टर का खेल निर्णायक साबित हुआ, जिसमें मनप्रीत सिंह की टीम ने चार गोल दागे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Hockey world Cup: भारतीय टीम ने कनाडा को 5-1 से हराया, क्‍वार्टर फाइनल में जगह बनाई

भारतीय टीम ने कनाडा के खिलाफ बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए 5-1 से जीत हासिल की

खास बातें

  1. चौथे क्‍वार्टर में भारतीय टीम ने दिखाया शानदार खेल, दागे चार गोल
  2. ललित ने दो गोल दागे, चिंग्‍लेसाना, अमित और हरमन का एक-एक गोल
  3. अपने पूल में गोलऔसत के आधार पर शीर्ष स्‍थान पर रहा भारत
भुवनेश्‍वर:

भारतीय टीम ने पूल 'सी' के अपने अंतिम मैच में कनाडा को 5-1 से हराकर हॉकी वर्ल्‍डकप के क्‍वार्टर फाइनल में प्रवेश कर लिया है. भारत की इस जीत में चौथे क्‍वार्टर का खेल निर्णायक साबित हुआ, जिसमें मनप्रीत सिंह की टीम ने चार गोल दागे. भारत के लिए आज के हीरो ललित उपाध्‍याय रहे, जिन्‍होंने दो गोल किए. चिंग्‍लेसाना, अमित रोहिदास और हरमनप्रीत सिंह ने एक-एक गोल दागा. शनिवार की इस जीत के साथ भारत अपने पूल में सात अंकों के साथ शीर्ष स्‍थान पर रहा. बेल्जियम के भी भारत के ही बराबर सात अंक रहे लेकिन गोल औसत के हिसाब से भारत ने पूल में पहला स्‍थान हासिल किया. भारतीय टीम ने अपने शानदार प्रदर्शन से कलिंगा स्‍टेडियम में मौजूद खेलप्रेमियों को खुश कर दिया और अंतिम आठ में जगह बना ली. दूसरी ओर, बेल्जियम को क्‍वार्टर फाइनल में प्रवेश के लिए अब क्रॉस ओवर मैच खेलना होगा.

भारत ने अपने पहले मैच में दक्षिण अफ्रीका को 5-0 से हराया था जबकि उसने अपना दूसरा मुकाबला बेल्जियम से 2-2 से ड्रॉ खेला था. भारत ने अपने पूल में तीन मैचों में 12 गोल किए जबकि तीन गोल खाए. बेल्जियम के भी तीन मैचों से सात अंक रहे. पूल 'सी' के अंतर्गत आज ही बेल्जियम ने दक्षिण अफ्रीका को भारत के ही बराबर अंतर यानी 5-1 से हराया. वर्ल्‍ड नंबर तीन बेल्जियम ने अपने तीन मैचों में नौ गोल किए और चार गोल खाए. इस तरह गोल अंतर से भारत पूल में पहले स्थान पर रहा. कनाडा और दक्षिण अफ्रीका की टीमें तीन-तीन मैचों में एक-एक अंक लेकर क्रमश: तीसरे और चौथे नंबर पर रहीं.

पहला क्‍वार्टर: मैच में भारतीय टीम ने आक्रामक अंदाज में शुरुआत की. दूसरे मिनट में भारत के लिए ललित उपाध्‍याय ने हमला बोला लेकिन कनाडाई डिफेंडरों ने खतरा बनने के पहले ही इसे टाल दिया. पांचवें मिनट में चिग्‍लेंसाना ने दाएं छोर से विपक्षी सर्किल में क्रॉस फेंका लेकिन विपक्षी गोलकीपर ने आक्रमण को नाकाम कर दिया. पहले क्‍वार्टर में ज्‍यादातर समय बॉल पर भारतीय खिलाड़ि‍यों का कब्‍जा रहा और कनाडाई टीम बचाव में ही नजर आई. 12वें मिनट में भारत को पेनल्‍टी कॉर्नर‍ मिला जिस पर हरमनप्रीत के गोल करते हुए टीम को 1-0 की बढ़त दिला दी. हरमन के इस गोल के सहारे पहले क्‍वार्टर में भारत 1-0 की बढ़त बनाए हुए था.

 

 

दूसरा क्‍वार्टर: दूसरे क्‍वार्टर के चौथे मिनट में कनाडा के शोल्‍फील्‍ड और पनेसर ने भारतीय गोल क्षेत्र पर आक्रमण किया लेकिन भारतीय डिफेंडरों ने खतरा टाल दिया. जवाबी आक्रमण में मनदीप ने विपक्षी गोलक्षेत्र के पास कप्‍तान मनप्रीत को पास देने की कोशिश लेकिन वे गेंद को कलेक्‍ट नहीं कर सके. 24वें मिनट में कनाडा के शोल्‍फील्‍ड ने भारतीय गोल पर शॉट लिया लेकिन गोलकीपर श्रीजेश मुस्‍तैद थे.दूसरे क्‍वार्टर के अंतिम क्षणों में भारत के हार्दिक को गलत ढंग से टैकल करने के लिए कनाडा के वालेस को यलो कार्ड दिखाया गया.दूसरे क्‍वार्टर में कोई भी टीम गोल करने में कामयाब नहीं हुई. हाफटाइम तक हरमनप्रीत के गोल के सहारे भारत 1-0 की बढ़त बनाए हुए था.

भारतीय टीम ने धमाकेदार जीत के साथ की शुरुआत, दक्षिण अफ्रीका को 5-0 से रौंदा

तीसरा क्‍वार्टर: हाफटाइम के बाद पहले ही मिनट में अमित के आक्रमण पर सिमरनजीन ने बेहतरीन कोशिश की लेकिन कामयाब नहीं हुए. इसके तुरंत बाद मनदीप भी एक ओवरहैड पास को नहीं ले पाए. लगातार कोशिश करने के बावजूद भारतीय टीम अपने गोल का अंतर बढ़ाने में सफल नहीं हो पा रही थी. खेल के 38वें मिनट में सिमरनजीत सिंह की गफलत टीम को भारी पड़ी. कनाडा के गॉर्डन जोंस्‍टन ने उनके गेंद छीनकर वान सोन फ्लोरिस को दी जिन्‍होंने गोल करते हुए अपनी टीम को 1-1 की बराबरी दिला दी.42 वें मिनट में किर्क पैट्रिक ने कनाडा के लिए गोल करने का मौका था लेकिन श्रीजेश ने खतरा टाल दिया. तीन क्‍वार्टर के बाद दोनों टीमें 1-1 की बराबरी पर थीं.

टिप्पणियां

चौथा क्‍वार्टर: भारतीय खिलाड़ि‍यों ने कनाडा के गोलक्षेत्र पर लगातार हमले बोले और बेहद कम अंतराल में चार गोल दागते हुए स्‍टेडियम में हर किसी को खुश कर दिया. 46वें मिनट में भारत के चिंग्‍लेसाना ने गोल करते हुए भारतीय खेलप्रेमियों के चेहरे पर मुस्‍कान ला दी. इस गोल से भारत ने 2-1 की बढ़त बना ली. 47 वें मिनट में ललित उपाध्‍याय के गोल से भारत ने 3-1 की बढ़त हासिल कर ली. खेल के 51वें मिनट में अमित रोहिदास के पेनल्‍टी कॉर्नर पर किए गए गोल से भारत 4-1 से आगे हो गया.भारत के लिए अंतिम गोल खेल के 57वें मिनट में ललित उपाध्‍याय ने किया.ललित का मुकाबले का यह दूसरा गोल रहा. भारतीय टीम को मैच में पांच पेनल्‍टी कॉर्नर मिले. भारत अब 13 दिसम्बर को अपना क्वार्टर फाइनल मैच खेलेगा.

वीडियो: भारतीय टीम के कोच हरेंद्र सिंह से विशेष बातचीत



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... IND vs AUS: अजीबोगरीब तरह से आउट हुईं हरमनप्रीत कौर, देखकर कीपर ने पकड़ लिया सिर, देखें Video

Advertisement