NDTV Khabar

एचडब्ल्यूएल फाइनल्स : भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 1-1 की बराबरी पर रोका

भारत ने हॉकी वर्ल्ड लीग फाइनल्स की शुरुआत विश्व चैम्पियन ऑस्ट्रेलिया को बराबरी पर रोकने के साथ की है.

34 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
एचडब्ल्यूएल फाइनल्स : भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 1-1 की बराबरी पर रोका

फाइल फोटो

खास बातें

  1. भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 1-1 की बराबरी पर रोका
  2. भारत की अग्रिम पंक्ति ने कुछ करीबी मौके गंवाए
  3. भारत के लिए 19वें मिनट में मनदीप सिंह ने फील्ड गोल किया
भुवनेश्वर: भारत ने हॉकी वर्ल्ड लीग फाइनल्स की शुरुआत विश्व चैम्पियन ऑस्ट्रेलिया को बराबरी पर रोकने के साथ की है. शुक्रवार को कलिंगा स्टडियम में खेले गए पूल-बी के मैच में एशियाई चैम्पियन भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 1-1 से ड्रॉ पर रोककर अंक बांटने पर मजबूर किया. ऑस्ट्रेलिया जैसी मजबूत टीम के खिलाफ भारत ने अपने घर में आक्रामक हॉकी खेली और वह कभी भी मेहमान से पीछे नजर नहीं आई. हालांकि, भारत की अग्रिम पंक्ति ने कुछ करीबी मौके गंवाए. तकरीबन यही हाल ऑस्ट्रेलिया का भी रहा. भारत के लिए 19वें मिनट में मनदीप सिंह ने फील्ड गोल किया, जबकि ऑस्ट्रेलिया के लिए जैरेमी हेवार्ड ने 20वें मिनट में पेनाल्टी कॉर्नर को गोल में बदलते हुए स्कोर बराबर कर दिया. इसके बाद कोई और गोल नहीं हो सका और दोनों टीमें अंक बांटने पर मजबूर हो गईं.


भारत ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मजबूत शुरुआत की और पहले ही मिनट में एसवी सुनिल-गुरजंत की जोड़ी ने गोलपोस्ट पर निशाना साधा जिसे ऑस्ट्रेलियाई गोलकीपर ने बचा लिया. अगले ही मिनट ऑस्ट्रेलिया ने काउंटर अटैक किया, लेकिन टॉम विकहैम गोल करने से चूक गए. तीसरे मिनट में ही भारत ने अपना दूसरा आक्रमण किया. इस बार आकाशदीप के शॉट को गोलकीपर ने रोका और वहीं खड़े गुरजंत रिबाउंड पर गोल करने में नाकामयाब रहे. पांचवें मिनट में भारत को पेनाल्टी कॉर्नर मिला जिसे भारत के पेनाल्टी कॉर्नर विशेषज्ञ गोल में नहीं बदल पाए. भारत के आक्रमण जारी रहे. 11वें मिनट में उसे एक और पेनाल्टी कॉर्नर मिला जो बर्बाद गया. 

यह भी पढ़ें: हॉकी: विश्‍व लीग फाइनल से पहले रफ्तार बढ़ाने पर ध्‍यान दे रही भारतीय टीम

दोनों टीमों के बीच आक्रमक हॉकी देखने को मिली और पहला क्वार्टर बिना गोल के समाप्त हुआ. लगातार मौके बना रही मेजबान टीम दूसरे क्वार्टर में गोल करने में कामयाब रही। 19वें मिनट में ललित उपाध्याय ने डी के अंदर मनदीप को पास दिया, जिन्होंने गोलकीपर को छकाते हुए गोल कर अपनी टीम को आगे कर दिया। मेजबान टीम की बढ़त हालांकि ज्यादा देर तक कायम नहीं रह सकी और ऑस्ट्रेलिया के हेवार्ड ने अगले ही पल पेनाल्टी कॉर्नर को गोल में बदलते हुए स्कोर बराबर कर लिया. 

यह भी पढ़ें: महिला हॉकी: भारत को एशिया कप चैंपियन बनाने वाली गोलकीपर सविता पूनिया को अभी भी नौकरी की तलाश

बराबरी करने के बाद ऑस्ट्रेलिया हावी हो गई और उसने कुछ लगातार हमले किए जिसे भारतीय गोलकीपर आकाश चिकते और रक्षापंक्ति ने कामयाब नहीं होने दिया. इस क्वार्टर में भारतीय आग्रिम पंक्ति ने लचिले प्रदर्शन से गोल करने के मौके गंवा दिए. हाफ टाइम तक स्कोर 1-1 रहा. तीसरे क्वार्टर के दूसरे मिनट में भारत को लगातार दो पेनाल्टी कॉर्नर मिले. पहला पेनाल्टी कॉर्नर सुनिल ने लिया, जबकि दूसरे पर रुपिंदर पाल सिंह ने हाथ आजमाया, हालांकि दोनों गोल करने में असफल रहे. तीन मिनट में बाद ऑस्ट्रेलिया के हिस्से भी लगातार दो पेनाल्टी कॉर्नर आए, लेकिन मेहमान टीम भी गोल नहीं कर पाई. 

VIDEO: एशिया कप जीतने वाली महिला हॉकी खिलाड़ियों ने खोले जीत के राज
तीसरे क्वार्टर में भी दोनों टीमों को गोल करने के मौके मिले थे वो वह भुनाने में असफल रहीं और यह क्वार्टर भी 1-1 की बराबरी पर खत्म हुआ. चौथे क्वार्टर में आकाशदीप ने गोलपोस्ट पर निशानासाधा जो पोस्ट से टकरा कर वापस आ गया. अंतत: दोनों टीमों के प्रयास नाकाफी रहे और मैच 1-1 की स्कोरलाइन के साथ समाप्त हुआ.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement