NDTV Khabar

मलेशिया को 2-1 से हराकर भारत तीसरी बार बना एशिया कप चैंपियन

आठवीं बार एशिया कप के फाइनल में खेलते हुए भारत ने जीत दर्ज की और तीसरी बार खिताब अपने नाम किया.

1.1K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
मलेशिया को 2-1 से हराकर भारत तीसरी बार बना एशिया कप चैंपियन

गोल मारने के बाद जश्न मनाते भारत के रमनदीप सिंह.

खास बातें

  1. भारत आठवीं बार खेल रहा था एशिया कप का फाइनल
  2. सुपर-4 मुकाबले में भी मलेशिया को दी थी शिकस्त
  3. पाकिस्तान को 4-0 से हराकर फाइनल में पहुंचा था भारत
नई दिल्ली: भारत ने मलेशिया को 2-1 से हराकर तीसरी बार एशिया कप हॉकी का खिताब जीता. भारत के लिए 10वें मिनट में रमनदीप सिंह और 29 वें मिनट में ललित उपाध्‍याय ने गोल दागे. वहीं, मलेशिया की तरफ से एकमात्र गोल शाहरिल सबा ने किया. इससे पहले भारत ने सुपर-4 मुकाबले में पाकिस्तान को 4-0 से हराकर फाइनल में जगह पक्‍की की थी.

यह भी पढ़ें : एशिया कप हॉकी: पाकिस्तान को हराकर 8वीं बार फ़ाइनल में पहुंचा भारत

इससे पहले मलेशिया को सुपर-4 में भारत ने 6-2 से हराया था. इसका फायदा टीम इंडिया को इस मैच में भी मिला. 13वें मिनट में मलेशिया को पेनल्टी कॉर्नर मिला, जिसका फायदा टीम नहीं उठा सकी. भारत ने इसका शानदार बचाव किया. दूसरे क्वार्टर में भारत का दबदबा दिखा. ललित उपाध्याय ने 29वें मिनट में गोलकर टीम को 2-0 से आगे कर दिया और दूसरा क्वार्टर भी इसी स्कोर के साथ खत्म हुआ.


यह भी पढ़ें : हॉकी में गुगली : महिला और पुरुष टीम के बदले गए कोच

टीम इंडिया ने तीसरे क्वार्टर में भी अटैक जारी रखा. हालांकि मलेशिया ने 50वें मिनट में गोल दागकर भारत की बढ़त को कम कर दिया.मलेशिया के लिए शाहरिल सबा ने गोल कर स्कोर 2-1 कर दिया जो अंत तक बरकरार रहा. चौथे क्वार्टर में मेलशिया ने काफी अटैक किया, लेकिन वह सफल नहीं हो सका. 

VIDEO: हॉकी के अनोखे खिलाड़ी कैलाश चंद्र यादव, मैच जीते मगर गरीबी से हार गए

आठवीं बार एशिया कप के फाइनल में खेलते हुए भारत ने जीत दर्ज की और तीसरी बार खिताब अपने नाम किया. इससे पहले 2003, 2007 में भारत एशिया कप चैंपियन बन चुका है. एशिया कप भारत के लिए इसलिए भी यादगार रहेगा, क्योंकि भारत ने इस टूर्नामेंट में एक भी मैच नहीं हारा. हालांकि टूर्नामेंट से पहले कोच रहे रोलैंट ऑल्टमैंस को हटाने के बाद विवाद भी हुआ, लेकिन टीम एकजुट होकर खिताब जीतकर सभी विवादों को शांत कर दिया. इस जीत के साथ भारत पहली ऐसी टीम बन गया है जिसने एक समय में एशिया के तीनों महत्वपूर्ण खिताब एशियाई खेलों का स्वर्ण, एशियाई चैंपियन्स ट्रॉफी और एशिया कप अपने नाम किए हैं. भारत ने 2014 में इंचियोन एशियाई खेलों के फाइनल में पाकिस्तान को पेनल्टी शूटआउट में 4-2 से और पिछले साल कुआंटन में एशियाई चैंपियनशिप ट्रॉफी के फाइनल में भी अपने इस पड़ोसी को 3-2 से हराया था.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement