यह ख़बर 25 अप्रैल, 2013 को प्रकाशित हुई थी

इंडिया ओपन बैडमिंटन : सायना हारीं, सात भारतीय क्वार्टर फाइनल में

इंडिया ओपन बैडमिंटन : सायना हारीं, सात भारतीय क्वार्टर फाइनल में

खास बातें

  • लंदन ओलिम्पिक में कांस्य जीत चुकीं विश्व की दूसरी वरीयता प्राप्त महिला टेनिस स्टार भारत की सायना नेहवाल योनेक्स सनराइज इंडिया ओपन-2013 बैडमिंटन टूर्नामेंट से बाहर हो गई हैं। भारत के सात खिलाड़ी हालांकि एकल वर्ग के क्वार्टर फाइनल में पहुंचने में सफल रहे है
नई दिल्ली:

लंदन ओलिम्पिक में कांस्य जीत चुकीं विश्व की दूसरी वरीयता प्राप्त महिला टेनिस स्टार भारत की सायना नेहवाल योनेक्स सनराइज इंडिया ओपन-2013 बैडमिंटन टूर्नामेंट से बाहर हो गई हैं। भारत के सात खिलाड़ी हालांकि एकल वर्ग के क्वार्टर फाइनल में पहुंचने में सफल रहे हैं।

आनंद पवार ने उलटफेर करते हुए टूर्नामेंट के तीसरे वरीय खिलाड़ी को हराया।

सायना की नाकामी भारत के लिए निराशा का कारण रही लेकिन पुरुष एकल में एचएस प्रनॉय, साई प्रणीत, अजय जयराम, पवार और गुरुसाई दत्त तथा महिला एकल में पीवी सिंधु और अरुंधति पंटावने का अंतिम-8 दौर में पहुंचना राहत की बात रही। पुरुष युगल, महिला युगल और मिश्रित युगल मुकाबलों में भी भारत को निराशा हाथ लगी।

टूर्नामेंट की शीर्ष वरीय खिलाड़ी सायना को जापान की युई हाशीमोतो ने दूसरे दौर में 13-21, 21-12, 22-20 से हराया। हाशीमोतो विश्व की 46वीं वरीय खिलाड़ी हैं। सायना और हाशिमोतो के बीच मुकाबला एक घंटे दो मिनट तक चला।

सायना ने पहले दौर में इंडोनेशिया की बेलाट्रिक्स मानुपुती को 21-12, 21-15 से पराजित किया था। वहीं, हाशिमोतो ने पहले दौर में सिंगापुर की अईंग जिंग को 21-17, 21-12 से हराया था। क्वार्टर फाइनल में हाशीमोतो का मुकाबला सिंधु से होगा।

पुरुष एकल में पवार ने शानदार प्रदर्शन करते हुए गुरुवार को सिरी फोर्ट इंडोर स्टेडियम में खेले गए दूसरे दौर के मुकाबले में टूर्नामेंट के तीसरे वरीय चीनी खिलाड़ी युन हई को 21-15, 15-21, 21-10 से हराया। पवार ने यह मैच 51 मिनट में जीता।

प्रणीत ने मलेशिया के इस्कांदर जैनुद्दीन को 16-21 29-27 21-16 से हराया। यह मैच एक घंटे आठ मिनट चला। अगले दौर में प्रणीत का सामना जापान के छठे वरीय केनिची तागो से होगा, जिन्होंने भारत के ही सौरव वर्मा की चुनौती समाप्त की। तागो ने एक घंटे नौ मिनट तक चले मुकाबले के बाद सौरव को 19-21 21-16 21-14 से पराजित किया।

पहले दौर के मुकाबले में विश्व के चौथे वरीय डेनमार्क के जान ओ जुर्गेनसन को बाहर का रास्ता दिखाने वाले भारतीय खिलाड़ी के श्रीकांत दूसरे दौर में हार गए। गुरुसाई ने उन्हें हराया। गुरुसाई ने श्रीकांत को 21-12, 21-16 से हराकर क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई। यह मैच 33 मिनट चला।

दूसरी ओर, प्रनॉय ने शानदार प्रदशर्न करते हुए विश्व के पूर्व सर्वोच्च वरीयता प्राप्त इंडोनेशियाई खिलाड़ी तौफीक हिदायत को एकल मुकाबलों से बाहर कर दिया।

हिदायत ने बुधवार को भारत को पारूपल्ली कश्यप की चुनौती समाप्त की थी लेकिन प्रनॉय ने हिदायत को 26-24, 21-9 से हराकर उस हार का हिसाब बराबर कर लिया। प्रनॉय ने यह मैच 40 मिनट में जीता।

पुरुष एकल में अजय जयराम ने भी चौंकाने वाली जीत दर्ज की। जयराम ने इंडोनेशिया के दियोनिसस हायोम को 21-15, 21-12 से हराया।

महिला एकल में सिंधु ने दूसरे दौर के मुकाबले में चीन की सुन यू को 19-21, 21-19 और 21-15 से हराया। यह मैच एक घंटे आठ मिनट तक चला। इन दोनों के बीच यह तीसरी भिड़ंत थी। दो बार सिंधु विजेता रही हैं जबकि एक बार चीनी खिलाड़ी को जीत हासिल हुई है।

टूर्नामेंट की आठवीं वरीय खिलाड़ी सिंधु ने पहले दौर में चीन की जुई याओ को 17-21, 21-18 और 21-14 से हराया था।

पंटावने ने अपने ही देश की नेहा पंडित को 21-18, 22-20 से हराया। नेहा के अलावा महिला एकल में सैली राने को भी हार मिली। सैली को टूर्नामेंट की पांचवीं वरीय कोरियाई खिलाड़ी इयोन जू बेई ने 21-16, 21-19 से हराया।

महिला युगल में हालांकि भारत को हार मिली है। प्रांद्या गडरे और अश्विनी पोनप्पा की जोड़ी को जापान की एम मिकाशी और टी अयाका के हाथों 21-14, 20-22 और 21-12 से हार मिली।

मिश्रित युगल में वी दीजू और ज्वाला गुट्टा को थाईलैंड केपी सुदकेत और टी साराली की जोड़ी ने 21-17, 21-10 से पराजित किया। यह मैच 27 मिनट चला।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इसी वर्ग में गडरे और अक्षय देवाल्कर की जोड़ी भी हार गई है। इस जोड़ी को पोलैंड के रॉबर्ट एम और एन जिएबा की जोड़ी ने 25 मिनट में 21-16 21-17 से हराया।