NDTV Khabar

जिन पर था बड़ा ऐतबार वो आज काम न आए, लेकिन इन्होंने रच दिया आज इतिहास

वर्ल्ड हॉकी लीग के सेमीफाइनल में भारत ने पाकिस्तान को 7-1 से रौंद डाला है और दूसरी ओर भारत के ही किदांबी श्रीकांत ने रविवार को इंडोनेशिया ओपन सुपर सीरीज प्रीमियर टूर्नामेंट जीत लिया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जिन पर था बड़ा ऐतबार वो आज काम न आए, लेकिन इन्होंने रच दिया आज इतिहास

(फाइल फोटो)

खास बातें

  1. हॉकी में भारत ने पाकिस्तान को 7-1 से हराया
  2. किदांबि श्रीकांत ने जीता इंडोनेशिया ओपन सुपर सीरीज़
  3. यह करिश्मा करने वाले श्रीकांत पहले भारतीय बने
नई दिल्ली: चैंपियंस ट्रॉफी में पाकिस्तान के हाथों के भारत की करारी हार पर टीम इंडिया के प्रशंसक भले ही गम में डूबे हों लेकिन खेल जगत से भारत के  लिए दो अच्छी खबरें हैं. पहली वर्ल्ड हॉकी लीग के सेमीफाइनल में भारत ने पाकिस्तान को 7-1 से रौंद डाला है और दूसरी ओर भारत के ही किदांबि श्रीकांत ने रविवार को इंडोनेशिया ओपन सुपर सीरीज प्रीमियर टूर्नामेंट जीत लिया. लेकिन दुख की बात यह है कि क्रिकेट के आगे इन दो बड़ी उपलब्धियों पर कोई चर्चा नहीं कर रहा है. हर ओर क्रिकेट में भारत की हार पर ही बात हो रही है.

कभी नहीं भूल पाएगा पाकिस्तान यह हार 
भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने रविवार को विश्व लीग सेमीफाइनल के अपने तीसरे पूल मैच में चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को 7-1 से पटखनी दे दी है. हरमनप्रीत ने (13वें और 33वें), तलविंदर (21वें और 24वें) तथा आकाशदीप (47वें और 59वें) मिनट में गोल किए. प्रदीप मोर ने भी 49वें मिनट में गोल किया. यह भारत की लगातार तीसरी जीत है और उसका सामना 20 जून को नीदरलैंड्स से होगा.
indian hockey team 650
( फाइल फोटो)

किदांबि श्रीकांत ने रचा इतिहास
बैडमिंटन में चीन और जापान के वर्चस्व को तोड़ते हुए किदांबि श्रीकांत ने इंडोनेशिया ओपन सुपर सीरीज प्रीमियर टूर्नामेंट जीत लिया है. ऐसा करने वाले वह भारत के पहले पुरुष खिलाड़ी हैं. इससे पहले यह उपलब्धि सायना नेहवाल के पास ही थी जो दो बार खिताब जीत चुकी हैं. विश्व के 22वीं वरीयता प्राप्त श्रीकांत ने फाइनल मैच में जापान के काजुमासा साकाई को हराया है. श्रीकांत ने सेमीफाइनल में विश्व में नम्बर-1 खिलाड़ी दक्षिण कोरिया के सोन वान हो को हरा कर फाइनल में जगह बनाई थी. फाइनल मैच में श्रीकांत ने 47वीं विश्व वरीयता प्राप्त साकाई को केवल 37 मिनट के भीतर सीधे गेमों में 21-11, 21-19 से हरा दिया.
kidambi srikanth
(फाइल फोटो)

कुश्ती में भी मिली सफलता

भारतीय पहलवानों ने रविवार को जूनियर एशियाई चैंपियनशिप के आखिरी दिन रविवार को तीन पदक जीत लिए, जिनमें श्रवण का स्वर्ण पदक शामिल था. टूर्नामेंट के आखिरी दिन श्रवण ने 60 किलो फ्रीस्टाइल में स्वर्ण पदक जीता. उन्होंने फाइनल में योनेस ए इमामीचोगाएइ को 9-2 से मात दी. दीपक पूनिया ने 84 किलो फ्रीस्टाइल में रजत जीता, जबकि करण को 66 किलो फ्रीस्टाइल में कांस्य पदक जीता.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement