भारत के पास नहीं है विकेटकीपर का विकल्प

खास बातें

  • भारत ने विकेटकीपिंग में कप्तान महेंद्र सिंह धोनी पर पूरा भरोसा दिखाया है, लेकिन यदि वह चोट के कारण नहीं खेल पाते हैं तो कोई विकल्प नहीं है।
नई दिल्ली:

विश्व कप क्रिकेट के लिए मैदान सज चुका है और सभी 14 सेनाएं तैयार हैं, लेकिन सह मेजबान भारत को छोड़कर बाकी सभी टीमों ने अपने पंद्रह सदस्यीय दल में इस खेल के मुख्य पात्र विकेटकीपर के लिए विकल्प जरूर रखा है। भारत ने विकेटकीपिंग में कप्तान महेंद्र सिंह धोनी पर पूरा भरोसा दिखाया है, लेकिन यदि वह चोट के कारण किसी मैच में नहीं खेल पाते हैं तो फिर भारतीय टीम के पास इसका कोई विकल्प नहीं है। भारत की जो 15 सदस्यीय टीम 19 फरवरी से दो अप्रैल के बीच होने वाले विश्व कप में भाग लेगी उसमें धोनी के अलावा कोई भी ऐसा खिलाड़ी नहीं है जो जरूरत पड़ने पर विकेट के पीछे की जिम्मेदारी निभा पाए। चयनकर्ताओं के इस फैसले से पूर्व क्रिकेटर भी हैरान हैं, क्योंकि इससे पहले 2003 में राहुल द्रविड़ के साथ पार्थिव पटेल और 2007 में धोनी के साथ द्रविड़ को वैकल्पिक विकेटकीपर के तौर पर टीम में रखा गया था। इस बार भारत की तरह अन्य किसी भी टीम ने हालांकि विकेटकीपिंग जैसे महत्वपूर्ण स्थान के लिए ऐसा जोखिम नहीं उठाया है। चार बार के चैंपियन आस्ट्रेलिया ने अपनी टीम में ब्रैड हाडिन और टिम पेन के रूप में दो विशेषज्ञ विकेटकीपर रखे हैं। अन्य टीमों में भी कम से कम दो ऐसे खिलाड़ी जरूर हैं जिन्होंने अपने कैरियर में कभी ने कभी विकेटकीपिंग की जिम्मेदारी संभाली है।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com