350 खिलाड़ियों की नीलामी के लिए फ्रेंचाइजी तैयार

खास बातें

  • इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के चौथे संस्करण के लिए शनिवार और रविवार को बोली लगाई जाएगी।
नई दिल्ली:

विश्व में सबसे प्रतिष्ठित और कमाऊ क्रिकेट लीग के तौर पर अपनी पहचान बनाने वाले इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के चौथे संस्करण के लिए शनिवार और रविवार को बोली लगाई जाएगी। इस दौरान आईपीएल-4 में खेलने को तैयार 10 फ्रेंचाइजी टीमें कुल 350 खिलाड़ियों की नीलामी प्रक्रिया में हिस्सा लेंगी। नीलामी की प्रक्रिया बेंगलुरू के एक पांच सितारा होटल में होगी। पहली बार आईपीएल में खेलने को तैयार कोच्चि और पुणे फ्रेंचाइजी टीमों सहित कुल 10 टीमें इस प्रक्रिया का हिस्सा होंगी। नीलामी में आईपीएल-3 में खेलने वाली पांच फ्रेंचाइजी टीमों के 12 खिलाड़ियों की बोली नहीं लगेगी। आईपीएल नियमों के मुताबिक इन फ्रेंचाइजी ने इन सभी खिलाड़ियों को चौथे संस्करण के लिए अपने पास रखा है। आईपीएल-4 को लेकर नियमों में किए गए बदलाव के कारण पहले संस्करण में बेंगलुरू की ओर से आईपीएल में शतक लगाने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी बनने का गौरव हासिल करने वाले कर्नाटक के मनीष पांडेय, भारतीय अंडर-19 टीम के पूर्व कप्तान अम्बाती रायडू, सिद्धार्थ त्रिवेदी, अभिषेक झुनझुनवाला और राजगोपाल सतीश जैसे युवा और प्रतिभाशाली खिलाड़ी नीलामी प्रक्रिया का हिस्सा नहीं होंगे। दिसम्बर में जारी किए गए दिशा-निर्देशों के मुताबिक आईपीएल के चौथे संस्करण में उन्हीं खिलाड़ियों के लिए बोली लगाई जाएगी जिन्होंने भारत के लिए खेला हो या फिर आईपीएल के तीसरे संस्करण में अपनी टीम की ओर से 75 फीसदी मैच खेले हों। नीलामी में पिछले तीन सत्र में शतक जड़ने वाले 12 में से 11 खिलाड़ियों की भी बोली लगेगी। इनमें पांडेय शामिल नहीं हैं। इनमें आईसीसी द्वारा 2010 में एकदिवसीय मैचों में प्लेयर ऑफ द ईयर के पुरस्कार से नवाजे गए दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज अब्राहम डिविलियर्स और राजस्थान रॉयल्स के लिए खेलने वाले हरफनमौला यूसुफ पठान का नाम शामिल है। यूसुफ के नाम आईपीएल में सबसे तेज शतक बनाने का कीर्तिमान है। इसके अलावा आईपीएल 2009 में सर्वाधिक विकेट झटकने वाले तेज गेंदबाज रुद्र प्रताप सिंह को भी नीलामी की प्रक्रिया से गुजरना होगा। आरपी ने आईपीएल के दूसरे संस्करण में डेक्कन चार्जर्स के लिए खेलते हुए 38 विकेट झटके थे। भारतीय क्रिकेट टीम के सलामी बल्लेबाज और आईपीएल-3 में दिल्ली डेयरडेविल्स के कप्तान रहे गौतम गम्भीर, मुम्बई इंडियंस के जहीर खान, मुम्बई इंडियंस के आशीष नेहरा और किंग्स इलेवन पंजाब के कप्तान रह चुके युवराज सिंह की भी बोली लगाई जाएगी। कोलकाता नाइट राइर्ड्स के कप्तान रह चुके भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली और डेक्कन चार्जर्स के कप्तान रहे वीवीएस लक्ष्मण ने नीलामी के लिए अपने 'भाव' बढ़ा दिए हैं। गांगुली ने अपना 'आरक्षित भाव' 200,000 डॉलर से बढ़ाकर 400,000 डॉलर कर दिया है वहीं लक्ष्मण ने अपना भाव 200,000 डॉलर से बढ़ाकर 300,000 डॉलर कर दिया है। लक्ष्मण आईपीएल-3 का हिस्सा नहीं थे। इसी श्रेणी में शामिल बेंगलोर रॉयल चैलेंजर्स के पूर्व कप्तान अनिल कुम्बले ने नीलामी से तीन दिन पहले आईपीएल से अपना नाम वापस ले लिया। कुम्बले आईपीएल-4 के लिए अपनी टीम के मेंटर के तौर पर नीलामी प्रक्रिया में मौजूद रहेंगे। नीलामी प्रक्रिया को लेकर आईपीएल कमिश्नर चिरायु अमीन ने कहा, "आईपीएल नीलामी बहुत ही रोमांचक प्रक्रिया है। मुझे विश्वास है कि भारत और विश्व में आईपीएल के प्रशंसक इस पर करीबी नजर रखेंगे कि आईपीएल के अगले सत्र में कौन सा खिलाड़ी किस टीम में जा रहा है।" आईपीएल के चौथे संस्करण में 70 लीग मैच और चार प्लेऑफ मुकाबले खेले जाएंगे। हर एक टीम 14 मैच खेलेगी जिसमें सात अपने मैदान पर और सात बाहर होंगे।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com