कश्मीर के बल्ला उद्योग के लिए वरदान है आईपीएल

खास बातें

  • आईपीएल के लिए जहां खिलाड़ियों की मंडी में करोड़ों की बोली लग रही है, वहीं कश्मीर का बल्ला उद्योग भी इस टी-20 लीग की सफलता से चमक रहा है।
श्रीनगर:

आईपीएल के लिए जहां खिलाड़ियों की मंडी में करोड़ों की बोली लग रही है, वहीं खिलाड़ियों के हाथ की रन मशीन बनने वाला कश्मीर का बल्ला उद्योग भी इंडियन प्रीमियर लीग की सफलता से चमक रहा है। आईपीएल ने अपने चौथे संस्करण में दो और शहरों- पुणे और कोच्चि में पांव पसारा है और बल्ला निर्माताओं को उम्मीद है कि जैसे जैसे लीग अपना विस्तार करेगा, इस ठंड में उनके बनाए बल्ले की मांग और बढ़ेगी। कश्मीर घाटी में बल्ला बनाने वाली पंजीकृत और गैर-पंजीकृत इकाइयां 200 से ज्यादा हैं और इनका सालाना व्यापार 10 करोड़ से ऊपर का है। क्रिकेट बैट निर्माता संघ के अध्यक्ष अब्दुल मजीद दार ने बताया, आईपीएल हमारे उद्योग के लिए वरदान रहा है। लीग की शुरुआत के बाद से हमारे बनाए बल्ले की बिक्री में जबर्दस्त उछाल आया है। हमें इस साल पुणे और कोच्चि जैसी नई टीमों के आने से भी बल्ले की मांग बढ़ने की उम्मीद है। दार ने बताया कि पिछले तीन सालों में क्रिकेट के बल्ले के निर्माताओं ने कोलकाता, हैदराबाद और जयपुर जैसे शहरों में सीधे तौर पर अपने कारोबार का विस्तार किया है। उन्होंने बताया कि पहले उनका कारोबार दिल्ली, मुंबई और कुछ हद तक बेंगलुरु जैसे बड़े शहरों तक ही सीमित था, लेकिन अब तो बड़ौदा और इंदौर जैसे शहरों से तक उनके पास सवाल आते हैं और पूछताछ की जाती है।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com