NDTV Khabar

निशानेबाजी: मनु भाकर-अनमोल की जोड़ी ने एयर पिस्‍टल के मिश्रित वर्ग में वर्ल्‍ड रिकॉर्ड बनाया, जीता स्‍वर्ण पदक...

आईएसएसएफ जूनियर विश्‍वकप निशानेबाजी चैंपियनशिप में भारत की मनु भाकर और अनमोल की जोड़ी ने स्‍वर्ण पदक जीता है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
निशानेबाजी: मनु भाकर-अनमोल की जोड़ी ने एयर पिस्‍टल के मिश्रित वर्ग में वर्ल्‍ड रिकॉर्ड बनाया, जीता स्‍वर्ण पदक...

भाखर और अनमोल ने क्वालीफिकेशन में सर्वाधिक स्कोर बनाया (@ISSF)

खास बातें

  1. क्‍वालिफिकेशन में इस जोड़ी ने बनाया विश्‍व रिकॉर्ड
  2. अनमोल और भाखर ने 770 अंक हासिल किए
  3. गनेमत शेखों ने जीता कांस्‍य पदक
सिडनी:

आईएसएसएफ जूनियर विश्‍वकप निशानेबाजी चैंपियनशिप में भारत की मनु भाकर और अनमोल की जोड़ी ने विश्‍व रिकॉर्ड के साथ स्‍वर्ण पदक जीता है. इस जोड़ी ने आज यहां दस मीटर एयर पिस्टल मिश्रित स्पर्धा में क्वालीफिकेशन में विश्व रिकार्ड के साथ सोने का तमगा जीता जो भारत का आईएसएसएफ जूनियर विश्व कप निशानेबाजी में सातवां स्वर्ण पदक है. गनेमत शेखों ने महिलाओं की जूनियर स्कीट में फाइनल में 36 अंक बनाकर कांस्य पदक हासिल किया. दस मीटर एयर राइफल की मिश्रित स्पर्धा में 17 वर्षीय श्रेया अग्रवाल और 19 वर्षीय अर्जुन बाबुता ने कांस्य पदक हासिल किया. उन्‍होंने 432.8 अंक बनाए. भारत के ही इलावेनिल वलारिवान (18) और तेजस कृष्णा प्रसाद (20) की जोड़ी इस स्पर्धा में 389.1 अंक बनाकर चौथे स्थान पर रही.

टिप्पणियां

यह भी पढ़ें: पदक तालिका में शीर्ष स्‍थान पर रहकर भारत ने रचा इतिहास..

भाकर और अनमोल ने अपनी स्पर्धा में शुरू से ही दबदबा बनाये रखा. उन्होंने क्वालीफिकेशन में सर्वाधिक स्कोर बनाया और इस बीच जूनियर क्वालीफिकेशन का नया विश्व रिकॉर्ड भी स्थापित किया. अनमोल और भाकर ने 770 अंक के साथ यह रिकॉर्ड बनाया. इसके बाद फाइनल में भी उन्होंने पहली सीरीज से अपना अच्छा प्रदर्शन जारी रखा. वे अपने करीबी प्रतिद्वंद्वी चीन के लियु जिनयावो और ली झुई से लगातार अंतर बढ़ाते रहे. उन्होंने आखिर में 478.9 अंक बनाये जो वर्तमान विश्व रिकॉर्ड से केवल 1.8 अंक कम है. चीन ने रजत और कांस्य पदक दोनों जीते. लियु जिनयाओ और ली झुई 473.3 अंक के साथ दूसरे जबकि वांग झेहाओ और झियो झियाझुआन 410.7 अंक बनाकर तीसरे स्थान पर रहे.

वीडियो: निशानेबाज अभिनव बिंद्रा से खास बातचीत
भारत की दूसरी टीम में 18 वर्षीय गौरव राणा और 19 वर्षीय महिमा तुर्ही अग्रवाल शामिल थे लेकिन ये दोनों पदक से चूक गये. उन्हें फाइनल में 38 शाट के बाद बाहर होना पड़ा तब उन्होंने 370.2 अंक बनाए थे और वे चौथे स्थान पर थे. भारत अब सात स्वर्ण सहित 17 पदक लेकर दूसरे स्थान पर चल रहा है. चीन आठ स्वर्ण सहित 21 पदक लेकर शीर्ष पर है. (इनपुट: भाषा)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement