मैंने खुद को साबित कर दिया : लुईस सुआरेज

साओ पाउलो:

विवादित स्ट्राइकर लुईस सुआरेज ने कहा कि इंग्लैंड के खिलाफ दो गोल करके उन्होंने अपनी उपयोगिता साबित कर दी है।

लीवरपूल के लिए खेलने वाले 27 बरस के फारवर्ड सुआरेज 2011 में क्लब से जुड़ने के बाद से गलत कारणों से सुखिर्यों में रहे हैं।

पिछले सत्र में चेलसी के ब्रानिस्लाव इवानोविच को काटने के कारण उन्हें 10 मैचों का प्रतिबंध झेलना पड़ा था। इससे पहले मैनचेस्टर युनाइटेड के पैट्रिस एवरा पर नस्लवादी टिप्पणी के कारण उन्हें आठ मैचों का निलंबन झेलना पड़ा था।

लीवरपूल से जुड़ने से पहले भी उन्हे एक विरोधी खिलाड़ी के कंधे पर काटने के कारण सात मैचों का प्रतिबंध झेलना पड़ा था।

सुआरेज ने कहा, इस जीत से मैं बहुत खुश हूं। मैं टीम की जीत में योगदान देना चाहता था, लेकिन यह अंत नहीं है। उन्होंने कहा, हमारी जीत ही नहीं, बल्कि जीतने का अंदाज भी उम्दा रहा। सभी के शक-शुबहे दूर हो गए होंगे। मैंने आलोचकों को गलत साबित कर दिया। घुटने के ऑपरेशन के सिर्फ चार हफ्ते बाद सुआरेज मैदान पर लौटे हैं। वह कोस्टा रिका के खिलाफ पहला मैच नहीं खेल सके थे, जो उरूग्वे हार गया था।

यह पूछने पर कि लीवरपूल के अपने साथी स्टीवन गेरार्ड से उन्होंने मैच के बाद क्या कहा, सुआरेज ने कहा, मैंने कहा कि इस मैच को भूलकर आगे अच्छा प्रदर्शन करो।

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com