NDTV Khabar

जम्मू और कश्मीर सरकार ने दिया घाटी के युवा फुटबॉलर्स को एक नायाब तोहफा

कैंप फंडिंग के अलावा हर जिला खेल कॉउंसिल को खेल को बढ़ावा देने के लिए 3-3 लाख रुपये भी प्रदान किये जाएंगे. क्लबों में कोच कॉन्ट्रैक्ट पर होंगे जिनका कोई निर्धारित वेतन नहीं होगा. खेल के सभी विशेषज्ञ और उम्मीदवारों का चयन युवा और खेल मंत्री इमरान अंसारी की देख रेख में ही होगा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जम्मू और कश्मीर सरकार ने दिया घाटी के युवा फुटबॉलर्स को एक नायाब तोहफा

जम्मू और कश्मीर सरकार ने फुटबॉल क्लबों की स्थापना के लिये 50-50 लाख रूपये देने की घोषणा की है

टिप्पणियां

जम्मू और कश्मीर सरकार ने घाटी में खेल को बढ़ावा देने की दिशा में एक बेहद महत्वपूर्ण कदम उठाया है. सरकार ने राज्य भर के तमाम गाँवों में फुटबॉल क्लबों की स्थापना के लिये 50-50 लाख रूपये देने की घोषणा की है. राज्य के युवा और खेल मंत्री इमरान अंसारी ने श्रीनगर में आयोजित राज्य खेल परिषद की स्थायी समिति की बैठक में यह ऐलान किया. अंसारी ने हफ्ते में कम से कम दो दिन पूरी तरह से लड़कियों के लिये आरक्षित करने के आदेश देते हुए ऑफिसर्स को खेलों में आधुनिक ट्रेनिंग का इस्तेमाल करने के लिए कहा.

अंसारी ने कहा की खेलों में देश के लिए अच्छा करने वाले खिलाड़ियों को ज़्यादा से ज़्यादा प्रोत्साहन मिलना चाहिए और साथ ही उनकी उपलब्धियों को सराहा जाना चाहिए. उन्होंने ये भी कहा की कड़ा परिश्रम करके देश के लिए मेडल्स लाने वाले एथलीटों का उदाहरण देकर युवाओं को खेल की ओर बढ़ावा देना चाहिए. अंसारी के अनुसार विश्व-स्तरीय खेल सुविधाओं से लैस इस प्रोजेक्ट का मकसद नई और छुपी हुई प्रतिभाओं को खोजना है. कैंप फंडिंग के अलावा हर जिला खेल कॉउंसिल को खेल को बढ़ावा देने के लिए 3-3 लाख रुपये भी प्रदान किये जाएंगे. क्लबों में कोच कॉन्ट्रैक्ट पर होंगे जिनका कोई निर्धारित वेतन नहीं होगा. खेल के सभी विशेषज्ञ और उम्मीदवारों का चयन युवा और खेल मंत्री इमरान अंसारी की देख रेख में ही होगा.

 
इस बड़े कदम की घोषणा ऐसे समय हुई है जब भारत अक्टूबर में होने वाले फीफा U-17 विश्व कप के आयोजन की तैयारियों में व्यस्त है. इस प्रतियोगता में भारतीय टीम को विश्व की टॉप टीमों के साथ खेलने का सुनहरा अवसर होगा. भारत मेज़बान होने की वजह से U-17 विश्व कप में हिस्सा लेगा. फुटबॉल में भारत का स्तर लगातार सुधर रहा है और हाल ही में टीम ने टॉप 100 रैंकिंग्स में प्रवेश किया है. विश्व के सबसे मशहूर और पसंदीदा खेल में भारत अपने अस्तित्व को बनाने की राह पर निकल चुका है, ऐसे में जम्मू और कश्मीर जैसे अस्थिर राज्य के इस फैसले ने पूरे देश के लिए एक बेहतरीन मिसाल और उदाहरण पेश किया है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement