NDTV Khabar

जूनियर वर्ल्ड शूटिंग चैंपियनशिप: विश्व रिकॉर्ड की बराबरी कर यशस्विनी सिंह ने जीता स्वर्ण पदक

यशस्विनी ने आठ निशानेबाजों के फाइनल में 235.9 का स्कोर कर विश्व रिकॉर्ड की बराबरी की और स्वर्ण पदक अपने नाम कर लिया.

385 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
जूनियर वर्ल्ड शूटिंग चैंपियनशिप: विश्व रिकॉर्ड की बराबरी कर यशस्विनी सिंह ने जीता स्वर्ण पदक

यशस्विनी ने फाइनल में 235.9 का स्कोर कर विश्व रिकॉर्ड की बराबरी की

खास बातें

  1. यशस्विनी सिंह देसवाल ने 10 मीटर एयर पिस्टल में सोने का तमगा जीता
  2. यशस्विनी ने आठ निशानेबाजों के फाइनल में विश्व रिकॉर्ड की बराबरी की
  3. इससे पहले अनीश 25 मीटर पिस्टल स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीते थे
भारत की यशस्विनी सिंह देसवाल ने जर्मनी में चल रही जूनियर वर्ल्ड शूटिंग चैंपियनशिप में इतिहास रचते हुए स्वर्ण पदक हासिल किया. यशस्विनी ने महिलाओं की 10 मीटर एयर पिस्टल प्रतियोगिता में विश्व रिकॉर्ड की बराबरी करते हुए देश के लिए सोने का तमगा जीता. 20 वर्षीय यशस्विनी ने आठ निशानेबाजों के फाइनल में 235.9 का स्कोर कर विश्व रिकॉर्ड की बराबरी की और स्वर्ण पदक अपने नाम कर लिया. उनके प्रदर्शन के दम पर भारत ने दो स्वर्ण पदक, एक रजत और दो कांस्य पदक के साथ अपने दूसरे स्थान को मजबूत कर लिया.

फाइनल में यशस्विनी अन्य शूटर्स पर हावी रहीं. दूसरे स्थान पर कोरियाई वूरी किम ने 231.8 का स्कोर बनाया जबकि इटली की गुइला कैम्पोस्ट्रिनी ने कांस्य पदक जीता. इससे पहले सौरभ चौधरी ने शानदार प्रदर्शन की बदौलत भारत ने पुरूषों की 10 मीटर एयर पिसटल स्पर्धा में कांस्य पदक जीता. उनकी टीम में साथी थे अनमोल और अर्जुन सिंह चीमा. सौरभ इस स्पर्धा में व्यक्तिगत रूप से चौथे स्थान पर रहे.

भारतीय निशानेबाजों का कुल स्कोर 1718 रहा. इसके अलावा भारत ने 25 मीटर एयर पिसटल स्पर्धा में भी कांस्य पदक जीता. अनीश, अनहद जवांदा और शिवम शुक्ला की तिकड़ी ने 1711 का स्कोर बनाते हुए भारत को कांस्य पदक दिलाया. इस प्रतियोगता में अनीश का ये दूसरा पदक है. इससे पहले अनीश 25 मीटर पिस्टल स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीते थे.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement