Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

एशियाई चैंपियनशिप : जापानी मुक्केबाज को हराकर खिताब से एक कदम दूर मैरीकॉम

भारत के लिए हालांकि आज का दिन निराशाजनक भी रहा जब चार बार की स्वर्ण पदक विजेता एल सरिता देवी (64 किलो) को कांस्य पदक से ही संतोष करना पड़ा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
एशियाई चैंपियनशिप : जापानी मुक्केबाज को हराकर खिताब से एक कदम दूर मैरीकॉम

भारतीय मुक्केबाज एमसी मैरीकॉम.

खास बातें

  1. मैरीकॉम ने जापान की सुबासा कोमुरा को 5-0 से हराया
  2. मैरीकॉम छह में से 5 बार इस टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंची हैं
  3. फाइनल में उनका सामना उत्तर कोरिया की किम हयांग मि से होगा
हो चि मिन्ह सिटी ( वियतनाम :

पांच बार की विश्व चैंपियन एमसी मैरीकॉम (48 किलो) ने एशियाई मुक्केबाजी चैम्पियनशिप में पांचवें स्वर्ण पदक की ओर कदम बढ़ाते हुए फाइनल में प्रवेश कर लिया. वहीं, सोनिया लाथेर (57) ने भी खिताबी मुकाबले में जगह बनाई.

यह भी पढ़ें : मैरीकॉम से लेकर सरिता के ‘मेंटर’ रह चुके हैं सागर मल दयाल

भारत के लिए हालांकि आज का दिन निराशाजनक भी रहा जब चार बार की स्वर्ण पदक विजेता एल सरिता देवी (64 किलो) को कांस्य पदक से ही संतोष करना पड़ा. सरिता देवी सेमीफाइनल में चीन की दोउ डैन से हार गईं. सरिता के अलावा प्रियंका चौधरी (60 किलो), लोवलिना बोरगोहेन (69 किलो), सीमा पूनिया (81 किलो से अधिक) और शिक्षा (54 किलो) को भी सेमीफाइनल में हार के साथ कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा.

टिप्पणियां

यह भी पढ़ें : मैरीकॉम से लेकर सरिता के ‘मेंटर’ रह चुके हैं सागर मल दयाल


मैरीकॉम ने जापान की सुबासा कोमुरा को 5-0 से हराया. वह छह में से पांचवीं बार इस टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंची हैं. फाइनल में उनका सामना उत्तर कोरिया की किम हयांग मि से होगा. हयांग ने मंगोलिया की एन म्यांगमारदुलाम को मात दी. फाइनल जीतने पर यह 48 किलोवर्ग में उनका पहला एशियाई स्वर्ण होगा.
 
VIDEO : बॉक्सिंग की कमबैक क्वीन ने कहा, 'भारत में और भी हैं मैरीकॉम'

राज्यसभा सांसद, ओलिंपिक कांस्य पदक विजेता 35 साल की मैरीकॉम 5 साल तक 51 किलो वर्ग में भाग लेने के बाद 48 किलोवर्ग में लौटी हैं.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... NPR से लेकर विशेष राज्य का दर्जा की मांग करके क्या नीतीश कुमार ने अपनी राजनीति साख दांव पर लगा दी?

Advertisement