'लाड़ले' फुटबॉलर लियोनल मेसी का कोपा अमेरिका हार के बाद अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल से संन्यास

'लाड़ले' फुटबॉलर लियोनल मेसी का कोपा अमेरिका हार के बाद अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल से संन्यास

कोपा अमेरिका का फायनल हारने के बाद लायनल मेसी (तस्वीर : AFP)

खास बातें

  • कोपा अमेरिका हार के बाद संन्यास की घोषणा
  • 2008 ओलिंपिक्स में देश को स्वर्ण पदक दिलवाया
  • अर्जेंटीना के लिए सर्वाधिक 55 गोल दागे
ईस्ट रुदरफोर्ड:

चिली के हाथों कोपा अमेरिका कप हारने के बाद अर्जेंटीना के फॉरवर्ड फुटबॉल खिलाड़ी लियोनल मेसी ने अंतरराष्ट्रीय खेल से संन्यास लिया। मेसी अब अर्जेंटीना के लिए नहीं खेलेंगे लेकिन बार्सिलोना फुटबॉल कप के लिए अपना खेल जारी रखेंगे। मेसी को इस वक्त दुनिया का सबसे लाड़ला फुटबॉलर खिलाड़ी कहना शायद गलत नहीं होगा। बता दें कि कोपा अमेरिका फाइनल में चिली ने अर्जेंटीना को पेनल्टी शूट आउट में 4-2 से हराया। अर्जेंटीना फुटबॉल संघ के साथ मेसी की कुछ समस्याएं भी जग जाहिर थीं। कुछ दिन पहले उन्होंने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर लिखा था - AFA एक मुसीबत है...!!

----- ----- ----- ----- ----- ----- ----- -----
चिली कैसे बना कोपा अमेरिका चैंपियन
----- ----- ----- ----- ----- ----- ----- -----

'जितना कर सकता था किया..'
कोपा में अर्जेंटीना के लिए खेलते वक्त मेसी पर दबाव कुछ ज्यादा ही रहा है, एक बार फिर मेसी दबाव में पिचक गए।
चिली के खिलाफ़ फ़ाइनल में शूटआउट के दौरान मेसी ने पेनाल्टी मिस कर दी। 2014 का विश्व कप फायनल और कोपा अमेरिका के तीन फाइनल हारने के बाद 29 साल के बार्सिलोना खिलाड़ी ने कहा 'मेरे और राष्ट्रीय टीम का साथ यहीं खत्म होता है। मैं जितना कर सकता था किया, चैंपियन नहीं होना दुख पहुंचाता है।'
 

तस्वीर : AFP

----- ----- ----- ----- ----- ----- -----
चिली बना कोपा अमेरिका चैंपियन
----- ----- ----- ----- ----- ----- -----

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

55 गोल दागने वाले मेसी
जब भावुक मेसी से मीडिया ने पूछा कि क्या वह संन्यास की बात कर रहे हैं तो उन्होंने कहा 'मैंने पूरी कोशिश की, चार फायनल हो गए हैं और मैं एक भी नहीं जीत पाया। मैंने जितना मुमकिन था किया, मुझे सबसे ज्यादा दुख पहुंचा है लेकिन यह साफ है कि यह सिर्फ मेरे लिए नहीं है।' जब मेसी से पूछा गया कि क्या अब वह अपने देश की यूनिफॉर्म दोबारा नहीं पहनेंगे तो जवाब था - मुझे नहीं लगता, मैंने इसके बारे में सोचा, जैसा कि मैंने पहले भी कहा कि मैंने जीतने की बहुत कोशिश की लेकिन अब बस। हमने चार फाइनल हारे हैं।'

बता दें कि मेसी 5 बार के बैलन डि ओर विजेता हैं और उन्होंने अर्जेंटीना के लिए पहला मैच 2005 में खेला था। चिली के खिलाफ़ कोपा 2016 फ़ाइनल उनका 113वां अंतर्राष्ट्रीय मैच था। यही नहीं मेसी अर्जेंटीना के लिए सर्वाधिक गोल करने वाले खिलाड़ी हैं, उन्होंने 55 गोल किए हैं। 2008 में मेसी ने ओलिंपिक में अर्जेंटीना को स्वर्ण पदक दिलवाया।