ISL 2017 : मुंबई सिटी ने एफसी गोवा को हराया, 2-1 से मात देकर घर में खोला खाता

थियागो सांतोस द्वारा 88वें मिनट में किए गए झन्नाटेदार गोल की मदद से मुंबई सिटी एफसी ने शनिवार को अपने घर में एफसी गोवा को 2-1 से हराते हुए हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के चौथे सीजन में अपना खाता खोल लिया है

ISL 2017 : मुंबई सिटी ने एफसी गोवा को हराया,  2-1 से मात देकर घर में खोला खाता

प्रतीकात्मक फोटो

खास बातें

  • मुंबई सिटी ने एफसी गोवा को हराया
  • 2-1 से मात देकर घर में खोला खाता
  • यह मैच काफी रोमांचक हुआ
मुंबई:

थियागो सांतोस द्वारा 88वें मिनट में किए गए झन्नाटेदार गोल की मदद से मुंबई सिटी एफसी ने शनिवार को अपने घर में एफसी गोवा को 2-1 से हराते हुए हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के चौथे सीजन में अपना खाता खोल लिया है. गोवा की यह सीजन-4 की पहली हार है. उम्मीद के मुताबिक, यह मैच काफी रोमांचक हुआ. मैच का पहला गोल मुम्बई ने 59वें मिनट में किया और उसे काफी समय तक बनाए भी रखा लेकिन 83वें मिनट मे एराना द्वारा किए गए गोल की मदद से गोवा ने शानदार वापसी की. ऐसा लग रहा था कि मुम्बई इस सीजन की पहली जीत से महरूम रह जाएगी और गोवा को लगातार दूसरी जीत मिलेगी लेकिन तभी सांतोस ने अपने दम पर गोवा की पूरी रक्षापंक्ति और गोलकीपर तथा कप्तान लक्ष्मीकांत काट्टीमनी को छकाते हुए एक दर्शनीय गोल किया और अपनी टीम को फिर से आगे कर दिया.

यह गोल वाकई बेहतरीन था. इसके बाद मुम्बई की रक्षापंक्ति ने गोवा की आक्रमण पंक्ति को गोलपोस्ट से दूर रखने में सफलता हासिल की और अपनी टीम को अहम तीन अंकों के साथ-साथ आगे के मैचों के लिए जरूरी आत्मबल प्रदान किया. गोवा को पहले हाफ के इंजुरी टाइम में बढ़त का बेहतरीन मौका मिला था, लेकिन मुंबई के गोलकीपर अमरिंदर सिंह ने उसे नाकाम कर दिया था. मेन्युएल अराना ने गेंद अहमज जोहु को पास दी, जिन्होंने किक लगाई जिसे कोरोमिनास ने ब्लॉक कर दिया. यहां से कोरो ने गेंद ली और नेट में डालना चाहा, लेकिन अमरिंदर ने डाइव मारकर बेहतरीन बचाव किया.

यह भी पढ़ें: ISL 2017 : जमशेदपुर और केरला के बीच हुई जबरदस्त टक्कर, गोलरहित ड्रॉ पर खत्म हुआ मैच

गोवा के इस हमले को भुलाकर मुंबई ने दूसरे हाफ की शानदार शुरुआत की और आते ही कुछ मौके बनाए. इमाना ने गोवा के गोलकीपर काट्टिमानी को छकाने की कोशिश की जो असफल साबित हुई और काट्टिमानी ने किसी तरह अपने आप को संभालते हुए गोल नहीं होने दिया इससे पहले, 48वें मिनट में बलवंत ने गोल करने का एक और साफ मौका खो दिया. गोवा के डिफेंडर नारायण दास ने बिना देखे पीछे पास दिया जो सीधे बलवंत के पास गया। एक बार फिर उनके सामने वन ऑन वन गोल करने का मौका था, जिसे वो गेंद को सीधा काट्टीमनी के हाथों में खेल कर गंवा बैठे. 52वें मिनट में गोवा की किस्मत रूठी हुई साबित हुई. कोरोमिनास ने मंडार राव देसाई को पास दिया, जिनका शॉट पोस्ट से टकरा कर वापस आ गया. 

पहले हाफ के अंत में और दूसरे हाफ की शुरुआत में गोवा की टीम जो गलतियां कर रही थीं, उसकी कीमत उसे 59वें मिनट में चुकानी पड़ी. कप्तान और गोलकीपर काट्टिमानी से इस तरह की उम्मीद विपक्षी टीम ने भी नहीं की थी. उन्होंने छोटा पास चिंगलेसाना सिंह को दिया जिन्होंने गेंद कप्तान को वापस की. यहां काट्टीमानी गेंद को ज्यादा देर तक अपने पास रखे रहे और सांतोस ने मौके को भांप लिया. काट्टीमानी ने देर से जो शॉट खेला उसे सांतोस ने रोका और नेट में डालते हुए अपनी टीम को 1-0 से आगे कर दिया. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

यह भी पढ़ें:  फलस्तीन पहली बार फीफा रैंकिंग में इस्राइल से ऊपर
​ 
हालांकि 66वें मिनट में गोवा के फेरान कोरोमियंस ने गोल कर दिया था, लेकिन रेफरी ने इसे ऑफ साइड करार दे दिया. मुंबई के पास 76वें मिनट में गोल करने का और मौका आया। जिसे इमाना ने डबल माइंड होने के कारण गंवा दिया. लग रहा था कि मुंबई इस सीजन में अपनी पहली जीत दर्ज कर लेगी लेकिन 83वें मिनट में अराना ने गोवा को बराबरी पर ला दिया. इसमें उनकी सहायता कोरोमिनास ने की। कोरोमिनास ने बॉक्स के दाहिने मुहाने से गेंद को अराना को दी, जिन्होंने बिना कोई गलती के गेंद को गोलपोस्ट में डाल दिया. 

VIDEO: कश्मीर में पत्थरबाजी छोड़ लड़कियों ने अपनाई फुटबॉल
मुंबई ने यहां हार नहीं मानी और 88वें मिनट में सांतोस द्वारा किए गए इस सीजन में अब तक किए गए सबसे बेहतरीन गोलों में से एक की मदद से अपनी पहली जीत दर्ज की.