विश्व कप के बाद संन्यास लेंगे मुरलीधरन

खास बातें

  • मुथैया मुरलीधरन ने कहा है कि वह 19 फरवरी से उपमहाद्वीप में आयोजित होने वाले क्रिकेट विश्व कप के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लेंगे।
कोलंबो:

श्रीलंका के महान स्पिन गेंदबाज मुथैया मुरलीधरन ने कहा है कि वह 19 फरवरी से उपमहाद्वीप में आयोजित होने वाले क्रिकेट विश्व कप के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लेंगे। 38 वर्षीय इस ऑफ स्पिन गेंदबाज ने कहा कि इस दौरान वह घरेलू ट्वेंटी-20 प्रतियोगिता खेलते रहेंगे। मुरलीधरन ने पिछले वर्ष जुलाई में टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले लिया था। मुरलीधरन ने कहा, "विश्व कप मेरा आखिरी दौरा होगा। मेरा समय अब पूरा हो चुका है। मैंने आईपीएल में कोच्चि फ्रेंचाइजी के साथ दो वर्ष के लिए करार किए हैं।" मुरलीधरन ने 133 टेस्ट मैचों में 800 विकेट झटके हैं। ऐसा करने वाले वह विश्व के इकलौते गेंदबाज हैं। इसके अलावा उन्होंने 339 एकदिवसीय मैचों में अब तक 517 विकेट चटकाए हैं। इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के चौथे संस्करण के लिए हाल में बेंगलुरू में संपन्न नीलामी में कोच्चि फ्रेंचाइजी ने मुरलीधरन को 5.1 करोड़ रुपये में खरीदा था। मुरलीधरन ने कहा, "यह मेरा चौथा विश्व कप है। हम 1996 में विश्व विजेता बने थे इसके बाद हम 2007 के फाइनल में पहुंचे थे। यह मेरे और श्रीलंकाई प्रशंसकों के लिए यादगार होगा।" विश्व कप की तैयारियों के बारे में मुरलीधरन ने कहा, "हमारी तैयारी अच्छी है और हमारे लिए विश्व कप जीतने का यह अच्छा मौका है क्योंकि हम अपने देश में खेलेंगे हालांकि हमें इसका ज्यादा फायदा नहीं होगा लेकिन हम अच्छा प्रभाव छोड़ने में जरूर कामयाब होंगे।" मुरलीधरन ने कहा कि फिलहाल उनका कोच बनने का कोई इरादा नहीं है।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com