NDTV Khabar

बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु ने कहा, 'वर्ल्‍ड नंबर बनना है मेरा लक्ष्‍य'

देश की शीर्ष महिला बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु ने कहा है कि उनका लक्ष्य दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी बनना है और वह शीर्ष स्थान हासिल करने का प्रयास कर रही हैं.

1Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु ने कहा, 'वर्ल्‍ड नंबर बनना है मेरा लक्ष्‍य'

पीवी सिंधु ने रियो ओलिंपिक में सिल्‍वर मेडल जीता था (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. कहा, इसके लिए कड़ी मेहनत कर रही हूं
  2. सिंधु ने मां को अपनी प्रेरणा बताया
  3. शुरू से ही देश के लिए खेलना चाहती थी
हैदराबाद: देश की शीर्ष महिला बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु ने कहा है कि उनका लक्ष्य दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी बनना है और वह शीर्ष स्थान हासिल करने का प्रयास कर रही हैं. कुछ माह पहले करियर की सर्वश्रेष्ठ दूसरी रैंकिंग हासिल करने वाली सिंधु ने कहा कि जब 8 साल की उम्र में उन्होंने पहली बार खेलना शुरू किया था तो उनका लक्ष्य भारत का प्रतिनिधित्व करना था. सिंधु यहां अपने स्कूल ‘आक्सिलम हाई स्कूल’ एक प्रचार कार्यक्रम के दौरान छात्रों और शिक्षकों से बात कर रही थीं.

यह भी पढ़ें: सुंग जी ह्यून ने तोड़ा पीवी सिंधु की आठ मैचों की जीत का सिलसिला

टिप्पणियां
इस मौके पर सिंधु ने बताया कि मेरी मां, मेरे लिए प्रेरणा है. उन्होंने कहा, ‘मां हमेशा यह कहने के लिए मौजूद रहीं  कि अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करो और जो भी करो उसमें अपना सर्वश्रेष्ठ दो. साहसी बनो और मजबूत रहो और सभी महिलाओं को ऐसा करना चाहिए और खुद पर विश्वास रखना चाहिए.’

वीडियो: वर्ल्‍ड चैंपियनशिप में मेडल जीतकर लौटीं पीवी सिंधु
इस बैडमिंटन खिलाड़ी ने कहा, ‘जब मैंने आठ साल की उम्र में खेलना शुरू किया तो मेरा सपना भारत के लिए खेलना था और यह मेरा पहला सपना था. जब मैंने भारत के लिए खेलना शुरू किया तो जब एक दिन मैंने सोचा कि मुझे दुनिया में शीर्ष पर होना चाहिए.’रियो ओलिंपिक की इस सिल्‍वर मेडलिस्‍ट ने कहा, ‘मैं दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी बनने का प्रयास कर रही हूं. निश्चित तौर पर मैं इस ओर बढ़ रही हूं. मैं खुद को वहां देखना चाहती हूं.’  (इनपुट: एजेंसी)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement