NDTV Khabar

विश्वकप में 'छुपा रुस्तम' साबित हो सकता है पाक

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. टीम में मिस्बाह, कामरान और उमर अकमल, अफरीदी, अब्दुल रज्जाक जैसे धुरंधर बल्लेबाज हैं, जो किसी भी मैच का रुख पलटने का दम रखते हैं।
Mumbai:

पाकिस्तान क्रिकेट पर हाल के वर्षों में भले ही विवादों का साया रहा हो, लेकिन दुनिया भर की टीमें इस बात से भलीभांति परिचित हैं कि शाहिद अफरीदी की टीम में आगामी विश्वकप में धमाल मचाने और छुपा रुस्तम साबित होने का माद्दा है। 2009 में श्रीलंकाई खिलाड़ियों पर हुए आतंकी हमले की वजह से पाक टीम स्वदेश में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलने से वंचित रही है और स्पॉट फिक्सिंग तथा टीम में लगातार होते बदलाव ने भी खिलाड़ियों पर गहरा असर छोड़ा है। देश की अवाम अपने कप्तान अफरीदी से उम्मीद कर रहे होंगे कि वह विश्वकप विजेता पाक टीम के कप्तान इमरान खान की तरह अपने कुशल नेतृत्व की मदद से 1992 का इतिहास दोहराएं। लंबे इंतजार के बाद विश्वकप के लिए कप्तानी हासिल करने वाले शाहिद अफरीदी निश्चित रूप से मोहम्मद आमिर और मोहम्मद आसिफ की तेज गेंदबाजी की कमी महसूस करेंगे, जो स्पॉट फिक्सिंग मामले में फंसकर प्रतिबंध झेल रहे हैं। हालांकि पाकिस्तान के पास प्रतिभाओं की कमी नहीं है और नए खिलाड़ियों ने भी प्रभावी प्रदर्शन किया है। पूर्व कप्तान वसीम अकरम ने हाल में कहा था, आसिफ और आमिर प्रतिभाशाली और किसी भी परिस्थति में विकेट निकालने वाले गेंदबाज हैं। उनकी अनुपस्थिति काफी अंतर पैदा करेगी। अकरम ने कहा, उमर गुल अच्छी गेंदबाजी कर रहे हैं, शोएब अख्तर ने वापसी की है और वहाब रियाज भी अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। पाकिस्तान का सहयोगी आक्रमण भी बहुत मजबूत है। तमाम परेशानियों के बावजूद पाकिस्तान क्रिकेट महाकुंभ में तीसरी वरीयता हासिल करने में सफल रहा है। पाकिस्तान विश्वकप के ग्रुप-ए में है, जिसमें गत विजेता ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, श्रीलंका, जिम्बाब्वे, कनाडा और कीनिया को भी रखा गया है। अकरम के मुताबिक, पाकिस्तान खतरनाक टीम साबित हो सकती है। कोई भी विश्वकप में पाकिस्तान की संभावना के बारे में नहीं लिख सकता। उनमें बेहतर प्रदर्शन करने की क्षमता है। पाकिस्तान टीम 23 फरवरी को कीनिया के खिलाफ श्रीलंका के हम्बनटोटा में अपने अभियान की शुरुआत करेगी। इस टीम की बल्लेबाजी को लेकर कुछ शंकाएं जरूर हैं, लेकिन दायें हाथ के बल्लेबाज यूनुस खान के अनुभव और उनकी लंबी पारी खेलने की क्षमता टीम के लिए अहम साबित हो सकती है। पाक टीम में मिस्बाह उल हक, कामरान और उमर अकमल, अफरीदी, अब्दुल रज्जाक जैसे धुरंधर बल्लेबाज हैं, जो किसी भी मैच का रुख पलटने का दम रखते हैं। टीम का स्पिन विभाग अफरीदी के साथ ऑफ स्पिनर सईद अजमल संभालेंगे। कुल मिलाकर पाकिस्तानी टीम खेल के हर विभाग में काफी हद तक संतुलित है। टीम इस प्रकार है:- शाहिद अफरीदी (कप्तान), मिस्बाह उल हक, मोहम्मद हफीज, कामरान अकमल, यूनुस खान, असद शफीक, उमर अकमल, अब्दुल रज्जाक, अब्दुर रहमान, सईद अजमल, शोएब अख्तर, उमर गुल, वहाब रियाज, सोहेल तनवीर, अहमद शहजाद।

टिप्पणियां


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement