विश्व बिलियर्ड्स के लंबे प्रारूप में पंकज आडवाणी हारे, कांस्‍य पदक से संतोष करना पड़ा

भारत के 17 बार के विश्व चैंपियन पंकज आडवाणी को आईबीएसएफ विश्व बिलियर्ड्स चैंपियनशिप के लंबे प्रारूप के सेमीफाइनल में इंग्लैंड के माइक रसेल के हाथों हारने के कारण कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा.

विश्व बिलियर्ड्स के लंबे प्रारूप में पंकज आडवाणी हारे, कांस्‍य पदक से संतोष करना पड़ा

इंग्‍लैंड के माइक रेसल ने मुकाबला 1251-620 से जीता (फाइल फोटो)

खास बातें

  • सेमीफाइनल में इंग्लैंड के माइक रसेल ने हराया
  • रसेल ने यह मुकाबला 1251-620 से जीता
  • इससे पहले शॉर्टर फॉर्मेट में चैंपियन रहे थे पंकज
दोहा:

भारत के 17 बार के विश्व चैंपियन पंकज आडवाणी को आईबीएसएफ विश्व बिलियर्ड्स चैंपियनशिप के लंबे प्रारूप के सेमीफाइनल में इंग्लैंड के माइक रसेल के हाथों हारने के कारण कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा. रसेल ने आडवाणी से पहले जरूरी 1250 अंक हासिल करके फाइनल में जगह बना उन्होंने यह मैच 1251-620 से जीता. आडवाणी ने मजबूत शुरुआत की लेकिन रसेल ने महत्वपूर्ण मौकों पर अच्छा खेल दिखाया और 551 का ब्रेक्स हासिल किया जो टूर्नामेंट में अब तक का सर्वाधिक है. इसके बाद उन्होंने 447 को ब्रेक्स लेकर फाइनल में प्रवेश किया जहां उनका मुकाबला म्यांमा के नेइ थवाइ ओउ और इंग्लैंड के राबर्ट हाल के बीच होने वाले दूसरे सेमीफाइनल के विजेता से होगा.

यह भी पढ़ें: पाकिस्तान को पटखनी देकर भारत एशियाई स्नूकर चैंपियन, पंकज रहे हीरो

इससे पहले क्वार्टर फाइनल में भारत के दोनों खिलाड़ी ध्रुव सितवाला और सौरव कोठारी को हार का सामना करना पड़ा जिसके बाद आडवाणी पर उम्मीदें टिकी थीं.

वीडियो: मलेशिया को हराकर भारत ने एशिया कप जीता
इससे पहले आडवाणी ने आईएसएसएफ विश्व बिलियर्ड्स चैंपियनशिप के शॉर्टर फॉर्मेट में इंग्लैंड के माइक रसेल को हराकर करियर का 17वां विश्व खिताब जीता था. आडवाणी ने रसेल को 6-2 (0-155, 150-128, 92-151, 151-0, 151-6, 151-0, 150-58, 150-21) से हराया था. इस तरह से उन्होंने 150 से अधिक फ्रेम में अपना खिताब बचाए रखा. उन्होंने पिछले साल बेंगलुरु में भी खिताब जीता था. पंकज किसी भी खेल में सर्वाधिक विश्व खिताब जीतने वाले भारतीय हैं. इससे पहले वो 13 बार बिलियर्ड्स और चार बार स्नूकर  विश्व चैंपियन का खिताब जीत चुके हैं. (इनपुट: एजेंसी)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com