पैरा एशियाई खेलों में भाग लेने वाले खिलाड़ि‍यों ने पीएम नरेंद्र मोदी से की भेंट...

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 2018 के एशियाई पैरा खेलों के पदक विजेताओं से मिलकर उन्हें अच्छे प्रदर्शन के लिए बधाई दी. उन्‍होंने विभिन्‍न स्‍पर्धाओं में खिलाडि़यों द्वारा पदक जीतने पर प्रसन्‍नता व्‍यक्‍त की.

पैरा एशियाई खेलों में भाग लेने वाले खिलाड़ि‍यों ने पीएम नरेंद्र मोदी से की भेंट...

एशियाई पैरा खेलों में भाग लेने वाले खिलाड़ि‍यों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की

खास बातें

  • इन खेलों में 72 पदक जीत 9वें स्‍थान पर रहा था भारत
  • पदकों में 15 स्‍वर्ण, 24 रजत और 33 कांस्‍य शामिल
  • पीएम बोले-आपकी कामयाबी में मनोबल का अहम रोल
नई दिल्ली:

जकार्ता (इंडोनेशिया) में हुए पैरा एशियाई खेलों में भारत ने शानदार प्रदर्शन करते हुए 72 पदक हासिल किए, इसमें 15 स्वर्ण, 24 रजत और 33 कांस्य शामिल हैं. इस शानदार प्रदर्शन के बल पर भारत की दिव्यांग टीम पदक तालिका में 9वें स्थान पर रही. शनिवार को इन खेलों का समापन हुआ. स्‍वदेश लौटने के बाद भारत के इन दिव्‍यांग खिलाड़ि‍यों ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी से उनके निवास पर भेंट की. इस अवसर पर  केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री डॉ. थावरचंद गेहलोत, युवा कार्यक्रम और खेल राज्यमंत्री राज्यवर्धन राठौड़, पैरालिंपिक कमेटी ऑफ इंडिया के प्रेसीडेंट और केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह भी मौजूद थे.

पैरा एशियाई खेल: हाई जंप में शरद ने जीता गोल्‍ड, तीनों पदकों पर भारत ने जमाया कब्‍जा

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 2018 के पैरा एशियाई खेलों के पदक विजेताओं से मिलकर उन्हें अच्छे प्रदर्शन के लिए बधाई दी. उन्‍होंने विभिन्‍न स्‍पर्धाओं में खिलाडि़यों द्वारा पदक जीतने पर प्रसन्‍नता व्‍यक्‍त की. खिलाडि़यों के प्रदर्शन की सराहना करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि इन सभी की सफलता में उनके मनोबल की अहम भूमिका रही है.उन्होंने वैश्विक स्‍तर पर भारत की प्रतिष्‍ठा बढ़ाने में इन खिलाड़ि‍यों के योगदान को सराहा.

Newsbeep

वीडियो: मशहूर निशानेबाज अभिनव बिंद्रा से खास बातचीत

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री  डॉ. थावरचंद गेहलोत ने भी खिलाड़ियों की हौसला अफजाई करते हुए उन्‍हें बधाई दी. उन्होंने कहा कि आप लोग देश के असली आइकन हो. यह सफर आसान नहीं था क्योंकि आप लोगों ने जीवन में काफी बाधाओं का सामना किया है. कइयों ने हार मान ली होगी लेकिन आपने नहीं मानी. इससे आपकी प्रतिबद्धता का पता चलता है. उन्होंने कहा कि पैरा खिलाड़ियों को सरकार का पूरा समर्थन हासिल है और सरकार उनमें तथा सक्षम खिलाड़ियों में फर्क नहीं करती.