प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रियो जाने वाले खिलाड़ियों से मुलाकात कर शुभकामनाएं दीं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रियो जाने वाले खिलाड़ियों से मुलाकात कर शुभकामनाएं दीं

रियो जाने वाले खिलाड़ियों से मुलाकात करते पीएम मोदी (फोटो सौजन्य : PIB India/ Twitter)

नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ब्राजील के रियो डि जनेरियो में होने वाले आगामी ओलिंपिक खेलों में भारत का प्रतिनिधित्व करने वाले खिलाड़ियों से सोमवार को मुलाकात की और उन्हें शुभकामनाएं दीं। मानेकशॉ सेंटर में हुए समारोह में प्रधानमंत्री मोदी ने खिलाड़ियों से व्यक्तिगत तौर पर बात की और 5 से 21 अगस्त तक होने वाले खेलों के इस महाकुंभ के लिए उन्हें शुभकामनाएं दीं।

समारोह में खेल मंत्री जितेंद्र सिंह, खेल सचिव राजीव यादव, अखिल भारतीय खेल परिषद (एआईसीएस) के अध्यक्ष विजय कुमार मल्होत्रा, भारतीय ओलिंपिक संघ के अध्यक्ष एन रामचंद्रन, महासचिव राजीव मेहता, हॉकी इंडिया के अध्यक्ष नरिंदर बत्रा और महासचिव मुश्ताक मोहम्मद आदि ने भी हिस्सा लिया।

भारत इस साल ओलिंपिक में अपना अब तक का सबसे बड़ा दल भेज रहा है। देश के 100 से अधिक खिलाड़ी पहले ही 13 खेलों के लिए क्वालीफाई कर चुके हैं। इससे पहले लंदन ओलिंपिक के दौरान भारत ने सर्वाधिक 83 खिलाड़ी भेजे थे। आगामी दिनों में कुछ और खिलाड़ी ओलिंपिक के लिए क्वालीफाई कर सकते हैं और खेल मंत्रालय तथा आईओए को उम्मीद है कि यह आंकड़ा 110 के पार पहुंच जाएगा।

सोमवार को प्रधानमंत्री से मिलने वाले खिलाड़ियों में निशानेबाज जीतू राय, मानवजीत सिंह संधू, हीना सिद्धू, बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधू, के श्रीकांत, मुक्केबाज शिव थापा, लंबी दूरी की धाविका सुधा सिंह और ललिता बाबर आदि शामिल रहे। भारतीय महिला हॉकी टीम, मुख्य कोच नील हागुड और कोच सीआर कुमार भी इस दौरान मौजूद थे।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

राष्ट्रीय बैडमिंटन कोच पुलेला गोपीचंद और मुक्केबाजी कोच गुरबक्श सिंह संधू ने भी कार्यक्रम में शिरकत की। इस दौरान खिलाड़ियों को प्रधानमंत्री के साथ सेल्फी खींचते और उनके ऑटोग्राफ लेते हुए देखा गया। मुक्केबाज शिव थापा ने बाद में ट्वीट किया, 'माननीय प्राधनमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलना शानदार रहा। आपके समर्थन के लिए धन्यवाद। जय हिंद।' रियो खेलों के लिए क्वालीफाई करने वाले कई खिलाड़ियों ने हालांकि कार्यक्रम में हिस्सा नहीं लिया, क्योंकि वे विदेश में ट्रेनिंग कर रहे हैं।

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)