NDTV Khabar

प्रो-वॉलीबॉल लीग को लेकर खिलाड़ि‍यों में खासा उत्‍साह

2 फ़रवरी से लेकर 22 फ़रवरी तक कोच्चि और चेन्नई में प्रो-वॉलीबॉल लीग की शुरुआत हो रही है. इसे लेकर भारतीय टीम के कई खिलाड़ी बेहद उत्साहित नज़र आ रहे हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. दो से 22 फरवरी तक आयोजन
  2. कोच्चि और चेन्‍नई में होंगे मैच
  3. छह टीमें ले रही हैं इसमें हिस्‍सा
नई दिल्‍ली:

क्रिकेट की इंडियन प्रीमियर लीग यानी IPL के बाद भारत में बैडमिंटन, कबड्डी और रेसलिंग जैसे कई लीगों की शुरुआत हुई और अब कई दूसरे खेल भी इस तरह की लीग की योजना बना रहे हैं. इसी कड़ी में 2 फ़रवरी से लेकर 22 फ़रवरी तक कोच्चि और चेन्नई में प्रो-वॉलीबॉल लीग की शुरुआत हो रही है. इसे लेकर भारतीय टीम के कई खिलाड़ी बेहद उत्साहित नज़र आ रहे हैं. वॉलीबॉल के खिलाड़ी इस लीग को लेकर बेहद उत्साहित हैं. मीडिया में थोड़ी-बहुत इस लीग को लेकर ख़बरें भी छप रही हैं. आमतौर पर वॉलीबॉल के नेशन्लस को लेकर भी बहुत छोटी ख़बरें ही छप पाती हैं. इस लीग की क्रिकेट के आईपीएल, बैडमिंटन या कबड्डी की लीग से तुलना करना शायद ज़्यादती हो. लेकिन छह टीमों के इस टूर्नामेंट को लेकर आयोजक और खिलाड़ी बेहद उत्साहित हैं. इस खेल को चाहने वालों को भी वॉलीबॉल का दर्शन अमूमन एशियाड के वक्त ही हो पाता है.

पहली वॉलीबॉल लीग में जम्मू-कश्मीर के पुंछ इलाक़े से चुने गए भारतीय टीम के ख़िलाड़ी सक़लैन तारिक़ बड़ी उम्मीदें लगा रहे हैं. सक़लैन बताते हैं, "कश्मीर में इस खेल का जुनून है. मेरा तो पूरा परिवार ही वॉलीबॉल खेलता है." 21 साल के 6 फ़ुट तीन इंच के सक़लैन कहते हैं कि इस खेल के सहारे कश्मीर में राजनीति की दिशा बदल सकती है. वो कहते हैं कि कश्मीर को इस खेल के लिए भी इंफ़्रास्ट्रक्चर की ज़रूरत है.


बीच वॉलीबॉल में बिकिनी-हिज़ाब और फ्रांस के इस एथलीट का जज्‍़बा तो देखें..

कुछ ऐसी ही राय टीम इंडिया के स्पाइकर दीपेश सिन्‍हा भी रखते हैं. जकार्ता एशियाड के मैचों के दौरान टीम इंडिया के लिए क्लीन शॉट्स लगाते दीपेश बताते हैं कि जब उन्होंने खेलना शुरू किया था तब सोचा भी नहीं था कि भारत में ये खेल इस मुकाम तक पहुंचेगा और कभी इस खेल में भारत में एक प्रोफेशनल लीग जैसी बात भी होगी. दीपेश कहते हैं, "मैंने दंतेबाड़ा के नक्सल-हिट इलाक़े में स्कूलिंग की. मेरे कद (6 फ़ीट 6 इंच) की वजह से वॉलीबॉल नेशनल्स के लिए मेरा चुनाव हो गया और अब तो ये मेरा जुनून बन गया है." हालांकि पहले सीज़न में लीग सिर्फ़ दो शहरों में (चेन्नई और कोच्चि) में खेला जा रहा है. लेकिन लीग के प्रमोटर तुहिन मिश्रा (मैनेजिंग डायरेक्टर एंड को-फ़ाउंडर बेसलाइन वेंचर) इसे लेकर बेहद उत्साहित हैं. वो कहते हैं, "ये लीग बहत जल्द कबड्डी से ज़्यादा बड़ी और लोकप्रिय हो जाएगी. ये ओलिंपिक स्पोर्ट है. दुनिया में इसे फ़ुटबॉल के बाद इसके सबसे ज़्यादा खिलाड़ी (क़रीब 1 अरब) हैं. ये आसान भी है और ग्लैमरस भी. बड़ी बात ये है कि भारतीय खिलाड़ियों का इंटरनेशनल लेवल बहुत अच्छा है." वो दावा करते हैं कि अगले सीज़न कम से कम दो और टीमें इस लीग से जुड़ जाएंगी और इसके मैच दो के बजाए चार शहरों में खेले जाएंगे.

तुहिन बताते हैं कि मौजूदा वॉलीबॉल फ़ेडरेशन में आपसी फूट और कम अंतर्राष्ट्रीय मैच खेलने की वजह से भारत वर्ल्ड रैंकिंग में पिछड़ा नज़र आता है. लेकिन पिछली दफ़ा दो साल पहले रैंकिंग के लिहाज़ से भारतीय टीम एशिया में पांचवें नंबर तक पहुंची थी. वो ये भी कहते हैं कि भारत ने 1986 के सिओल एशियाड में ब्रॉन्ज़ और 2014 के इंचियन गेम्स में भारत पांचवें नंबर पर रहा था. भारत गोल्ड मेडल विजेता जापान से 3-2 से क्वार्टर फ़ाइनल में हार गया था. उन्हें लगता है कि मौजूदा लीग का लाइव प्रसारण (द.पूर्व एशिया में टीवी पर और डिजिटल लेवल पर पूरी दुनिया में) इस खेल में जान डाल देगा.  

तुहिन खिलाड़ियों की राय से इत्तेफ़ाक रखते हैं कि इससे युवा पीढ़ी बुरी राजनीति का हथकंडा बनने के बजाए सकारात्मक रास्ता अपना सकती है. वॉलीबॉल के पहले सीज़न के लिए खिलाड़ियों का चुनाव हुआ तो सभी छह टीमों के लिए 12 मुख्य और 2 रिज़र्व खिलाड़ी चुने गए. लीग के लिए चुने गए 84 में से 72 खिलाड़ी भारतीय हैं. इनमें अमेरिका और कनाडा के ओलिंपिक स्वर्ण पदक और कांस्य पदक विजेता खिलाड़ी भी हिस्सा ले रहे हैं. दिसंबर में हुई नीलामी में  क़रीब सवा सौ खिलाड़ियों (117 खिलाड़ी) को चार ग्रुप में बांटा गया- इंटरनेशनल्स आइकॉन, इंडियन आइकॉन्स, सीनियर भारतीय खिलाड़ी और नेशनल्स और अंडर-21 खिलाड़ी. इस ऑक्शन में पंजाब के रंजीत सिंह सबसे ज़्यादा 13 लाख रुपये में अहमदाबाद डिफेंडर्स द्वारा ख़रीदे गए. लीग में पहले सीज़न में कुल 18 मैच खेले जाएंगे. ये मैच कोच्चि और चेन्नई में आयोजित होंगे.
फ़ाइनल चेन्नई में 22 फ़रवरी को होगा जहां 1 करोड़ की इनामी रक़म वाली इस लीग की विजेता टीम को इनाम के तौर पर 50 लाख रुपये मिलेंगे.

टिप्पणियां

एक नजर में पहली प्रो वॉलीबॉल लीग
-लीग में 6 टीमें, 18 मैच
-खिलाड़ी - 84, भारतीय खिलाड़ी 72
-लीग 2 से 22 फ़रवरी तक
-लीग में सबसे महंगे रहे रंजीत
-रंजीत को अहमदाबाद ने खरीदा
-टीमें- अहमदाबाद डिफेंडर्स, कैलीकट हीरोज़, चेन्नई स्पार्टन्स
-टीमें- कोच्चि ब्लू स्पाइकर्स, यू मुंबा वॉली, ब्लैक हॉक हैदराबाद
-कोच्चि और चेन्नई में होंगे मैच
-फ़ाइनल चेन्नई में 22 फ़रवरी को
-टीवी पर - Sony Six और Sony Ten 3 पर
Live streaming on-  Sony LIV.
-मैच टाइम- 7 बजे 9 बजे
-प्राइज़ मनी- 1 करोड़ रुपये
-विजेता को इनाम- 50 लाख रुपये.

वीडियो: नई भूमिका में महिला बॉक्‍सर एमसी मेरीकॉम



NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement