NDTV Khabar

ब्राजील का रियो ओलंपिक को लेकर खुलासा, रिश्वत देकर पाया आयोजन का मौका

समाचार एजेंसी एफे की रिपोर्ट के अनुसार, अभियोजक फैबियाना श्नाइडर ने कहा कि कार्लोस आर्तुर नुजमान ने इसके लिए ब्राजील के व्यापार जगत के दिग्गजों, राजनेताओं को अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) के सदस्यों से मिलवाने में अहम भूमिका निभाई थी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
ब्राजील का रियो ओलंपिक को लेकर खुलासा, रिश्वत देकर पाया आयोजन का मौका
रियो डी जनेरियो:

ब्राजील की ओलंपिक समिति के चेयरमैन ने आरोप लगाया है कि पिछले साल रियो डी जनेरियो में ओलंपिक खेलों के आयोजन के लिए रिश्वत दी थी. अभियोजन पक्ष ने यह जानकारी दी है. समाचार एजेंसी एफे की रिपोर्ट के अनुसार, अभियोजक फैबियाना श्नाइडर ने कहा कि कार्लोस आर्तुर नुजमान ने इसके लिए ब्राजील के व्यापार जगत के दिग्गजों, राजनेताओं को अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) के सदस्यों से मिलवाने में अहम भूमिका निभाई थी. 

ये भी पढ़ें: ब्राजील पुलिस ने 10 सेंधमारों को मार गिराया, 20 से ज्यादा चोरियां-लूटपाट की थी : अधिकारी

पुलिस ने नुजमान से इस मामले में पूछताछ की और एटार्नी जनरल के कार्यालय ने अदालत से नुजमान की संपत्ति और पासपोर्ट को जब्त करने के लिए कहा. 


VIDEO: 'किंग ऑफ फुटबॉल' पेले से मिलकर मंत्रमुग्ध हुए 'प्रिंस ऑफ कोलकाता' गांगुली

फैबियाना ने कहा, "इस बात को नकारा नहीं जा सकता कि नुजमान ने रियो डी जनेरियो की उम्मीदवारी के समर्थन के लिए लोगों को समझाया था. ओलंपिक की भ्रष्ट कार्रवाइयों के लिए खेलों का उपयोग ट्रम्पोलिन के रूप में किया गया था."

फ्रांसीसी अधिकारियों के साथ मिलकर इस मामले की जांच की गई. जांच में रियो डी जनेरियो के पूर्व गवर्नर सर्जियो कबराल भी मामले में शामिल पाए गए. वह भ्रष्टाचार के आरोपों के तहत पहले से ही जेल की सजा काट रहे हैं.

टिप्पणियां

इनपुट: भाषा
 

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement