रियो ओलिम्पिक मैराथन चैम्पियन जेमिमा सुमगोंग डोप परीक्षण में नाकाम : रिपोर्ट

रियो ओलिम्पिक मैराथन चैम्पियन जेमिमा सुमगोंग डोप परीक्षण में नाकाम : रिपोर्ट

जेमिमा सुमगोंग ने रियो ओलिम्पिक में महिला मैराथन का स्वर्ण पदक जीतकर कीनियाई एथलेटिक्स में नया अध्याय जोड़ा था... (प्रतीकात्मक फोटो)

पेरिस:

रियो ओलिम्पिक में महिला मैराथन का स्वर्ण पदक जीतकर कीनियाई एथलेटिक्स में नया अध्याय जोड़ने वाली जेमिमा सुमगोंग प्रतियोगिता से इतर डोप परीक्षण में नाकाम रही हैं.

रिपोर्टों में दावा किया गया है कि 32-वर्षीय धाविका लंदन मैराथन की मौजूदा चैम्पियन भी हैं. ब्रिटिश ब्रॉडकास्टिंग कॉरपोरेशन (बीबीसी) की रिपोर्ट में कहा गया है कि उन्हें अपने देश कीनिया में अंतरराष्ट्रीय एथलेटिक्स महासंघ (आईएएएफ) के परीक्षण में प्रतिबंधित ईपीओ के लिए पॉज़िटिव पाया गया है.

बीबीसी ने आईएएएफ के बयान का हवाला दिया है, जिसमें कहा गया है, "हम पुष्टि करते हैं कि इस सप्ताह जेमिमा सुमगोंग से जुड़ा डोपिंगरोधी नियम के उल्लंघन का मामला सामने आया है..." इसमें कहा गया है, "इस एथलीट का कीनिया में नोटिस दिए बिना परीक्षण किया गया, जिसमें वह ईपीओ के लिए पॉज़िटिव पाई गईं..."

गौरतलब है कि सुमगोंग ने पिछले साल तमाम विपरीत परिस्थितियों के बावजूद लंदन मैराथन जीती थी. वह इसके बाद रियो ओलिम्पिक में भी स्वर्ण पदक जीतने में सफल रही थीं और इस तरह से ओलिम्पिक में मैराथन का खिताब जीतने वाली पहली कीनियाई महिला एथलीट बनी थीं.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com