रियो पैरालिम्पिक्स: ऊंची कूद में मरियप्पन थांगावेलू ने सोना जीतकर रचा इतिहास, वरुण भाटी को मिला कांस्य

रियो पैरालिम्पिक्स: ऊंची कूद में मरियप्पन थांगावेलू ने सोना जीतकर रचा इतिहास, वरुण भाटी को मिला कांस्य

खास बातें

  • वरुण भाटी ने 1.86 मीटर कूद कर इसी इवेंट में कांस्य पदक अपने नाम किया.
  • मरियप्‍पन थांगावेलू ने 1.89 मी. की जंप लगाते हुए सोना जीता.
  • हाई जंप इवेंट में भारत ने गोल्ड और ब्रॉन्ज पदक पर कब्ज़ा जमाया.
रियो डे जेनेरो:

रियो में चल रहे पैरालिम्पिक्स खेलों में भारत ने इतिहास रचा है. हाई जंप इवेंट में भारत ने गोल्ड और ब्रॉन्ज पदक पर कब्ज़ा जमाया है. ऊंची कूद में मरियप्पन थांगावेलू ने गोल्ड पर कब्जा जमाते हुए इतिहास रच दिया है तो वहीं, वरुण सिंह भाटी ने 1.86 मीटर कूद कर इसी इवेंट में कांस्य पदक अपने नाम किया.

मरियप्‍पन थांगावेलू ने 1.89 मी. की जंप लगाते हुए सोना जीता, जबकि भाटी ने 1.86 मी. की जंप लगाते हुए कांस्य पदक अपने नाम किया. वह मुरलीकांत पेटकर (स्वीमिंग 1972 हेजवर्ग) और देवेंद्र झाझरिया (भाला फेंक, एथेंस 2004 ) के बाद गोल्ड जीतने वाले तीसरे भारतीय हैं.

तमिलनाडु सरकार ने ऐलान किया है कि वह गोल्‍ड मेडल विजेता मरियप्पन थांगावेलू को दो करोड़ रुपये इनाम स्‍वरूप देगी.

Newsbeep

दोनों भारतीय खिलाडि़यों ने रियो पैरालिम्पिक्स में गोल्ड और कांस्‍य पदक जीतकर करोड़ों हिंदुस्तानियों को झूमने का मौका दे दिया है. जबकि रजत पदक अमेरिका के सैम ग्रेवी को मिला. उधर, भारत के ही संदीप भाला फेंक कांस्य जीतने से चूक गए और वह चौथे स्थान पर रहे. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


थांगावेलू और भाटी की इस सफलता के बाद अभी तक के सभी पैरालिम्पिक्स खेलों में भारत के कुल पदकों की संख्या 10 हो गई है जिसमें 3 स्वर्ण, तीन रजत और चार कांस्य शामिल है.