11वीं बार विंबलडन के फाइनल में पहुंचे रोजर फेडरर, मारिन चिलिच से होगा अब मुकाबला

11 वीं वरीयता प्राप्त बर्डिच ने इससे पहले 2010 के क्वार्टर फाइलन में फेडरर को हरा दिया था.

11वीं बार विंबलडन के फाइनल में पहुंचे रोजर फेडरर, मारिन चिलिच से होगा अब मुकाबला

( फाइल फोटो )

खास बातें

  • फेडरर अगर फाइनल जीते तो 8 वां विंबलडन खिताब होगा
  • रविवार को चिलिच से होगा मुकाबला
  • चिलिच दूसरी बार किसी ग्रैंड स्लैम के फाइनल में पहुंचे हैं
नई दिल्ली:

रोजर फेडरर विंबलडन के फाइनल में पहुंच गए हैं. सेमीफाइनल मुकाबले में उन्होंने चेक रिपब्लिक के टॉमस बर्डिच को 7-6, 7-6, 6-4  हराया.  11 वीं वरीयता प्राप्त बर्डिच ने इससे पहले 2010 के क्वार्टर फाइलन में फेडरर को हरा दिया था. रिकॉर्ड के मुताबिक इस बार भी मुकाबला काफी कड़ा रहा और बर्डिच ने फेडरर को तगड़ी चुनौती पेश की. लेकिन फेडरर ने इस बार कोई गलती नहीं और 11 वीं बार विंबलडन के फाइनल में पहुंच गए. अगर वह फाइनल जीतते हैं तो यह उनका आठवां विंबलडन खिताब होगा. 

फाइनल में मारिन चिलिच होंगे सामने
क्रोएशिया के टेनिस खिलाड़ी मारिन चिलिच अब फाइनल मुकाबले में रविवार को रोजर फेडरर के सामने होंगे. चिलिच पहली बार इस टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंचे हैं. चिलिच ने विश्व की सर्वोच्च वरीयता प्राप्त ब्रिटेन के एंडी मरे को मात देने वाले अमेरिका के सैम क्वेरी को चार सेटों तक चले कड़े मुकाबले में परास्त कर फाइनल में प्रवेश किया है. चिलिच ने सैम को दो घंटे 56 मिनट तक चले मुकाबले में 6-7(6-8), 6-4, 7-6 (7-3), 7-5 से मात देते हुए दूसरी बार किसी ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट के फाइनल में जगह बनाई है. इससे पहले, सिलिक 2014 में अमेरिकी ओपन के फाइनल में पहुंचे थे और जीत हासिल की थी. उनके नाम यही एक इकलौता ग्रैंड स्लैम खिताब है. 

( इनपुट आईएनएस से भी )
 

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com