NDTV Khabar

राहुल द्रविड़ को ही बनना चाहिए टीम इंडिया का कोच : NDTV से सुनील गावस्कर

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
राहुल द्रविड़ को ही बनना चाहिए टीम इंडिया का कोच :  NDTV से सुनील गावस्कर

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर (फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली:

भारतीय क्रिकेट टीम को अपनी राष्ट्रीय टीम के लिए कोच की तलाश है और फ़िलहाल जिन भी नामों पर बीसीसीआई मन बनाती दिखती है वो किसी ना किसी वजह के चलते कोच की रेस से बाहर हो जाते हैं। लेकिन इस दौरान राहुल द्रविड़ का नाम हर रेस में सबसे आगे रहा है। पूर्व खिलाड़ी हों या फिर मौजूदा टीम के सदस्य और अभरते सितारे, हर ओर से राहुल द्रविड़ को राष्ट्रीय टीम का कोच बनाए जाने की मांग बढ़ी है।

क्या कहना है फ़ेहरिस्त में जुड़े नए नाम वाले व्यक्ति का?
इस फ़ेहरिस्त में अब नाम जुड़ा पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पॉन्टिंग का जिन्होंने माना कि भारत के कोच पद के लिए राहुल द्रविड़ से बेहतर विकल्प कोई नहीं हो सकता। रिकी पॉन्टिंग ने कहा कि बीसीसीआई को क्या चाहिए? एक विदेशी कोच या फिर एक देसी कोच? जो नाम फ़िलहाल दौड़ में हैं उनमें से राहुल द्रविड़ से बेहतर नाम मिलना मुश्किल दिखता है।  लेकिन अगर वो इस पद को लेना चाहते हैं, तो  ये तय है कि वो शानदार काम करेंगे। उनके पास खेल और अनुभव के लिहाज़ से तीनों फ़ॉर्मेट में बेइंतहा जानकारीहै , साथ ही वो पिछले 5-6 सीज़न आईपीएल में भी ये काम करते रहे हैं।  वो शानदार उम्मीदवार हैं लेकिन ये बीसीसीआई और विराट कोहली को सोचना है कि उन्हें क्या चाहिए।

और कौन से नाम चर्चा में हैं?
गौरतलब है कि पिछले दिनों इस तरह की खबरें आई थीं कि वो विराट कोहली ने बीसीसीआई से पूर्व कीवी ऑलराउंडर और मौजूदा आरसीबी कोच डेनियल विटोरी को भारतीय कोच बनाने के लिए सिफ़ारिश की थी। लेकिन विराट की तरफ़ से ये बयान आया कि ये हाल-फ़िलहाल की नहीं बल्कि पुरानी बात है। भारत के निर्धारित ओवरों के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी भी अपनी टीम पुणे और इससे पहले चेन्नई के कोच रहे पूर्व कीवी कप्तान स्टीफ़न फ़्लेमिंग के कोच बनाए जाने की तरफ़ इशारा कर चुके हैं।


टिप्पणियां

क्या कहा सुनील गावस्कर ने?
इस बाबत जब NDTV ने पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर से बातचीत की तो उन्होंने कहा कि ज़ाहिर तौर पर वो द्रविड़ का समर्थन करते हैं। गावस्कर ने कहा कि "मैं ये बात तब से कह रहा हूं जब से उन्होंने क्रिकेट छोड़ा। हर खिलाड़ी को एक कूलिंग ऑफ़ पीरियड चाहिए होता है और उस समय के बाद फिर चाहे वो सेलेक्टर हो, मैनेजर या कोच, उसने खिलाड़ियों के साथ ड्रेसिंग रूम में कुछ समय बिताया होगा और उसे पता होगा कि वो खिलाड़ी टीम में होना चाहिए या नहीं। अब जब द्रविड़ का कूलिंग पीरियड हो चुका है, मेरा मानना है और बीसीसीआई को एक सच्ची सलाह ये है कि अगर वो बदलाव के लिए देख रहे हैं जो बड़ा सवाल है, तो फिर द्रविड़ से आगे उन्हें कहीं और देखने की ज़रूरत नहीं है।"

क्या कहते हैं द्रविड़?
लेकिन द्रविड़ की बात करें तो इससे पहले भी वो ये बात साफ़ कर चुके हैं कि वो भारतीय टीम के कोच पद के लिए तैयार नहीं हैं जिसके लिए उन्हें करीब 8-9 महीने टीम के साथ यात्रा करनी होगी, और अभी अपने परिवार को वो समय देना चाहते हैं।



NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement