NDTV Khabar

बैडमिंटन: साल का समापन दुबई फाइनल्‍स की खिताबी जीत के साथ करना चाहती हैं पीवी सिंधु

ओलिंपिक रजत पदक विजेता पीवी सिंधु वर्ष 2017 का अंत दुबई विश्व सुपर सीरीज फाइनल में एक और खिताब के साथ करना चाहती हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बैडमिंटन: साल का समापन दुबई फाइनल्‍स की खिताबी जीत के साथ करना चाहती हैं पीवी सिंधु

सिंधु ने इस साल इंडिया और कोरिया ओपन सुपर सीरीज का खिताब जीता (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. बुधवार से प्रारंभ होने वाला है यह टूर्नामेंट
  2. इस साल सिंधु ने दो सुपर सीरीज खिताब जीते
  3. ग्‍लास्‍गो वर्ल्‍ड चैंपियनिशप में उपविजेता रही थीं
नई दिल्‍ली: ओलिंपिक रजत पदक विजेता पीवी सिंधु वर्ष 2017 का अंत दुबई विश्व सुपर सीरीज फाइनल में एक और खिताब के साथ करना चाहती हैं. यह टूर्नामेंट बुधवार से प्रारंभ होगा. सिंधु ने इस साल इंडिया ओपन सुपर सीरीज और कोरिया ओपन सुपर सीरीज का खिताब जीता जबकि ग्लास्गो वर्ल्‍ड चैंपियनशिप और हांगकांग ओपन में वह उप विजेता रहीं. सिंधु ने  कहा, ‘यह मेरे लिए अच्छा साल रहा और मैं अपने प्रदर्शन से काफी खुश हूं. मैंने दो सुपर सीरीज खिताब जीते और एक में उप विजेता रही और विश्व चैंपियनशिप में रजत पदक भी जीता. मुझे कोई मलाल नहीं है क्योंकि इस सत्र में मैंने काफी अच्छा प्रदर्शन किया. अब मैं उम्मीद करती हूं कि साल का अच्छा अंत हो जो दुबई सुपर सीरीज फाइनल्स होगा, उम्मीद करती हूं कि मैं वहां अच्छा प्रदर्शन करूंगी.’

यह भी पढ़ें: पीवी सिंधु हांगकांग ओपन के फाइनल मुकाबले में हारीं

पिछले साल दुबई प्रतियोगिता के सेमीफाइनल में पहुंची इस बैडमिंटन खिलाड़ी ने कहा, ‘यह आसान नहीं होने वाला क्योंकि सभी शीर्ष खिलाड़ी इस प्रतियोगिता में खेलेंगी. पहले दौर से ही सभी मैच काफी कड़े होंगे. इसलिए दुबई में अच्छा प्रदर्शन करने से लिए मुझे अच्छी शुरुआत करनी होगी.’22 साल की यह खिलाड़ी इस साल सभी 12 सुपर सीरीज टूर्नामेंट में खेलीं और वह इसका श्रेय अपने ट्रेनिंग सत्र को देती हैं जिसके कारण वह काम के बोझ से निपटने में सफल रहीं.

टिप्पणियां
वीडियो: वर्ल्‍ड चैंपियनशिप में मेडल जीतकर लौटीं पीवी सिंधु
अक्‍टूबर-नवंबर में लगातार पांच टूर्नामेंट खेलने वाली सिंधु ने कहा, ‘ट्रेनिंग काफी अच्छी चल रही है और मुझे प्रत्येक मैच के लिए तैयार रहना होता है. प्रत्येक महीने टूर्नामेंट होते हैं और जिस तरह मैंने काम के बोझ का प्रबंधन किया उससे खुश हूं. यह मेरे लिए अच्छा रहा.’विश्व बैडमिंटन महासंघ (बीडब्ल्यूएफ) ने अंतरराष्ट्रीय सर्किट में बदलाव किया है और शीर्ष 15 में शामिल खिलाड़ियों के लिए अगले साल कम से कम 12 टूर्नामेंट में खेलना अनिवार्य कर दिया है. अगले साल के कार्यक्रम के बारे में पूछने पर सिंधु ने कहा, ‘मुझे लगता है कि अगले साल का कार्यक्रम काफी व्यस्त होगा और हमें इसी के मुताबिक योजना बनानी होगी और टूर्नामेंट में खेलना होगा क्योंकि प्रत्येक टूर्नामेंट महत्वपूर्ण होगा और साथ ही राष्ट्रमंडल खेल और एशियाई खेल जैसे महत्वपूर्ण टूर्नामेंट भी होंगे.’

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement