NDTV Khabar

दिनेश कुमार ने WWE के रिंग में दिखाया ऐसा कमाल, तो आई आवाज- 'सावधान! आ रहा है द ग्रेट खली का स्टूडेंट'

WWE ने दुबई में हुए ट्रायल का वीडियो शेयर किया है जिसमें रैसलर दिनेश कुमार को रिंग में लगातार 40 रोल करते दिखाया गया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दिनेश कुमार ने WWE के रिंग में दिखाया ऐसा कमाल, तो आई आवाज- 'सावधान! आ रहा है द ग्रेट खली का स्टूडेंट'

खली यानी दलीप सिंह राणा डब्ल्यूडब्ल्यूई में चैंपियन बनने वाले भारत के पहले पहलवान हैं

खास बातें

  1. दिनेश, खली की एकेडमी कॉन्टिनेंटल रैसलिंग एंटरटेनमेंट के स्टूडेंट हैं
  2. दिनेश कुमार रिंग में लगातार 40 रोल करके खूब चर्चा में हैं
  3. दिनेश कुमार हरियाणा से हैं और बीएससी फाइनल के छात्र हैं
नई दिल्ली: डब्ल्यूडब्ल्यूई की दुनिया में किसी समय में अच्छे-अच्छे धुरंधरों को धूल चटाने वाले द ग्रेट खली भले ही इन दिनों फाइटिंग की दुनिया से संन्यास लेकर आराम फरमा रहे हों, लेकिन फिर भी रिंग्स में उनके नाम की धूम मची हुई है. और खली के नाम का डंका बजाने वाले हैं उन्हीं के शिष्य दिनेश.

भारत के उभरते रैसलर दिनेश कुमार रैसलिंग की रिंग में खली के नाम की मशाल को रोशन किए हुए हैं. दिनेश ने हाल ही में दुबई में हुए एक ट्रायल इवेंट में ऐसा धमाल मचाया कि वहां बैठा हर कोई दांतों तले उंगली दबाने लगा.

WWE ने दुबई में हुए ट्रायल का वीडियो शेयर किया है जिसमें रैसलर दिनेश कुमार को रिंग में लगातार 40 रोल करते दिखाया गया है. दिनेश कुमार बिजली की गति से रोल कर रहे हैं कि जिसे देखकर आप अंदाजा लगा सकते हैं कि कल जब ये भारत का छोरा रिंग में उतरेगा तो अपने विरोधियों को कैसे पानी पिलाएगा. 
 

दिनेश अभी 20 साल के हैं और भारत के ही रैसलर खली से पिछले तीन सालों से रिंग में दांव-पेंच के गुर सीख रहे हैं. खली को भी अपने इस शिष्य पर पूरा भरोसा है, इसलिए वह उसे हर वो दांव सिखा रहे हैं जिनका इस्तेमाल वे खुद किया करते थे. खली का कहना है कि दिनेश अब रिंग में उतरने के लिए पूरी तरह से तैयार है. दिनेश हरियाणा से हैं और बीएससी फाइनल के छात्र हैं. 

उधर, दिनेश के साथ भारत की महिला रैसलर कविता दलाल ने भी सभी का ध्यान अपनी ओर खींचा है. डब्ल्यूडब्ल्यूई के इस टूर्नामेंट में हिस्सा लेने वाली कविता पहली भारतीय महिला पहलवान हैं. कविता भी खली की ही छात्र हैं.

डब्ल्यूडब्ल्यूई भारत समेत मध्य एशिया में अपने पांव पसार रहा है. इसलिए यहां ट्रायल किए जा रहे हैं. इन ट्रायलों में उभरते हुए नए पहलवानों का दमखम देखा जा रहा है.

टिप्पणियां
बता दें कि द ग्रेट खली के नाम से मशहूर दलीप सिंह राणा जालंधर स्थित अपनी एकेडमी कॉन्टिनेंटल रैसलिंग एंटरटेनमेंट में नौजवानों को पेशेवर रैसलिंग के गुर सिखाते हैं. दलीप सिंह राणा डब्ल्यूडब्ल्यूई में चैंपियन बनने वाले भारत के पहले पहलवान हैं.

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement