NDTV Khabar

Commonwealth Games 2018: धमाकेदार जीत का लक्ष्‍य लेकर कल मलेशिया के खिलाफ उतरेगी भारतीय हॉकी टीम...

कॉमनवेल्‍थ गेम्‍स 2018 में अभी तक अपेक्षा के अनुरूप प्रदर्शन नहीं कर सकी भारतीय पुरुष हॉकी टीम कल अपने से निचली रैंकिंग वाली मलेशियाई टीम के खिलाफ उतरेगी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Commonwealth Games 2018: धमाकेदार जीत का लक्ष्‍य लेकर कल मलेशिया के खिलाफ उतरेगी भारतीय हॉकी टीम...

कॉमनवेल्‍थ गेम्‍स में भारत का प्रदर्शन अभी तक अपेक्षा के अनुरूप नहीं रहा है (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. पहले मैच में पाक से मुकाबला 2-2 से रहा था बराबर
  2. दूसरे मैच में टीम ने वेल्‍स को 4-3 से हराया था
  3. महिला टीम कल दक्षिण अफ्रीका का सामना करेगी
गोल्ड कोस्ट: पदक की प्रबल दावेदार होने के बावजूद कॉमनवेल्‍थ गेम्‍स 2018 में अभी तक अपेक्षा के अनुरूप प्रदर्शन नहीं कर सकी भारतीय पुरुष हॉकी टीम कल अपने से निचली रैंकिंग वाली मलेशियाई टीम के खिलाफ उतरेगी. इस मैच में भारतीय टीम का लक्ष्य गलतियों से सबक लेकर धमाकेदार जीत दर्ज करने का होगा. पिछले दो खेलों की रजत पदक विजेता भारतीय टीम को पहले ही मुकाबले में चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान ने आखिरी सात सेकंड में 2-2 से ड्रॉ पर रोक दिया था. भारतीय टीम का पाकिस्तान के खिलाफ प्रदर्शन इतना लचर था कि कोच शोर्ड मारिन ने यहां तक कह डाला कि उन्हें लग रहा था कि कोई और टीम यह मैच खेल रही थी.

यह भी पढ़ें:  शाहरुख खान चाहते हैं इस खेल में देश की ओर से खेले बेटा अबराम..

इसके बाद वेल्स को भले ही भारत ने 4-3 से हरा दिया, लेकिन यह जीत वैसी नहीं थी जिसकी अपेक्षा थी. एफआईएच रैंकिंग में मलेशिया भारत से काफी नीचे है लेकिन मनप्रीत सिंह की टीम अप्रत्याशित रूप से कमजोर प्रतिद्वंद्वी के खिलाफ खराब प्रदर्शन करती आ रही है और पाकिस्तान के खिलाफ मैच उसका उदाहरण है. भारतीय खेमे के लिये अच्छी खबर यह है कि अनुभवी फारवर्ड एसवी सुनील और दिलप्रीत सिंह अच्छे फॉर्म में हैं. पेनल्टी कार्नर विशेषज्ञ हरमनप्रीत सिंह ने भी कुछ गोल किये हैं.

टिप्पणियां
वीडियो: भारत ने मलेशिया को हराकर एशिया कप जीता

मारिन ने कहा,‘मुझे नहीं लगता कि आखिरी क्षणों में गोल गंवाना भारत की ही समस्या है. कई दूसरी टीमें भी इससे जूझ रही हैं.’वेल्स के खिलाफ भी भारत ने 58 वें मिनट में पेनल्टी कार्नर गंवाया. सुनील ने शानदार प्रदर्शन करके गोल नहीं किया होता तो भारत को फिर एक अप्रत्याशित ड्रॉ खेलना पड़ता. दूसरी ओर, मलेशियाई टीम ने वेल्स को 3-0 से हराया लेकिन पहले मैच में इंग्लैंड से 0-7 से हार गया था. पिछली बार दोनों टीमें मार्च में अजलन शाह कप में टकराई थी जब भारत ने 5-1 से जीत दर्ज की थी. भारत अगर कल जीतता है तो सेमीफाइनल का उसका दावा पुख्ता हो जाएगा. दूसरी ओर, पिछले मैच में ओलिंपिक चैम्पियन इंग्लैंड को हराने वाली भारतीय महिला टीम कल दक्षिण अफ्रीका से खेलेगी. वेल्स के हाथों पहले मैच में पराजय झेलने के बाद रानी रामपाल की अगुवाई वाली महिला टीम ने शानदार वापसी की है.  (इनपुट: एजेंसी)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement