यूसेन बोल्ट ने 2016 ओलिंपिक के बाद संन्यास का इरादा बदला

यूसेन बोल्ट ने 2016 ओलिंपिक के बाद संन्यास का इरादा बदला

यूसेन बोल्ट की फाइल तस्वीर

खास बातें

  • तीन सप्ताह पहले ही बोल्ट ने कहा था कि वह 2016 ओलिंपिक के बाद संन्यास ले सकते हैं, लेकिन उन्होंने गुरुवार को कहा कि वह अब 2017 में लंदन में होने वाली विश्व चैंपियनशिप में हिस्सा लेंगे।
लंदन:

ओलिंपिक चैंपियन यूसेन बोल्ट ने 2016 ओलिंपिक के बाद संन्यास का अपना इरादा बदल दिया है। तीन सप्ताह पहले ही बोल्ट ने कहा था कि वह 2016 ओलिंपिक के बाद संन्यास ले सकते हैं, लेकिन उन्होंने गुरुवार को कहा कि वह अब 2017 में लंदन में होने वाली विश्व चैंपियनशिप में हिस्सा लेंगे।

एक किताब के प्रचार के लिए आए बोल्ट ने कहा, मैं अपने फैसले पर पुनर्विचार कर रहा हूं। मुझे लगता है कि मेरे प्रशंसक मेरे संन्यास के फैसले से खुश नहीं हैं। उन्हें लगता है कि मुझे और खेलना चाहिए। मैंने अपने कोच से बात की, जिन्होंने कहा कि मैं और खेल सकता हूं। मुझे लगता है कि एक साल और बढ़ाया जा सकता है। उन्होंने हालांकि कहा कि 2020 टोक्यो ओलिंपिक उनके जेहन में नहीं है।

उन्होंने कहा, अभी उसमें काफी समय है, लेकिन अगर मैं अगले ओलिंपिक में जीतता हूं, तो सारे लक्ष्य हासिल हो जाएंगे। उसके बाद खेलते रहने का कोई मतलब नहीं है। बोल्ट ने बीजिंग ओलिंपिक में 100, 200 मीटर और चार गुणा 100 मीटर रिले खिताब जीता। पिछले साल लंदन ओलिंपिक में उन्होंने इसे दोहराया।

विश्व चैंपियनशिप 2009 और पिछले महीने मास्को में उन्होंने ये तीनों स्वर्ण जीते। अभी तक राष्ट्रमंडल खेलों में भाग नहीं ले सके बोल्ट की नजरें 2014 ग्लासगो खेलों पर है।

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com