NDTV Khabar

प्रो बॉक्सिंग में विजेंदर सिंह की जीत का सिलसिला जारी, चीन के बॉक्‍सर को भी किया चित

जिस तरह से सिक्किम में भारत और चीन के बीच तनाव चरम पर है, इस मुकाबले पर दोनों ही देशों के लोगों की निगाहें थीं.

3.5K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
प्रो बॉक्सिंग में विजेंदर सिंह की जीत का सिलसिला जारी, चीन के बॉक्‍सर को भी किया चित

खास बातें

  1. तीसरे और चौथे राउंड में बराबरी की टक्कर देखने को मिली
  2. जुल्फिकार को खेल भावना के ख़िलाफ़ शॉट लगाने के लिए प्वाइंट्स गंवाने पड़े
  3. विजेंदर ने अपने प्रो-बॉक्सिंग करियर में ना हारने का रिकॉर्ड बरक़रार रखा
मुंबई: बॉक्सर विजेंदर सिंह ने एक बार फिर साबित कर दिया कि वो प्रो-बॉक्सिंग में भी चैंपियन हैं. विजेंदर ने मुंबई में हुए बैटलग्राउंड एशिया फ़ाइट में चीन के ज़ुफिल्‍कार मैमतअली को हराकर अपने प्रोफ़ेशनल करियर की लगातार नौंवीं फ़ाइट जीत ली. इसी के साथ विजेंदर ने WBO एशिया पैसिफ़िक सुपर मिडिलवेट और WBO ओरिएंटल सुपर मिडिलवेट ख़िताब अपने नाम कर लिया. विजेंदर सिंह और मैमतअली के बीच टक्कर देखने के लिए मुंबई में दर्शकों की भारी भीड़ उमड़ी.

विजेंदर को देखने के लिए बॉवीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन, अभिषेक बच्चन, गुलशन ग्रोवर, सोनु सूद, संगीतकार अनु मलिक, हॉकी खिलाड़ी धनराज पिल्ले और योगगुरू रामदेव भी मौजूद रहे.

31 साल के विजेंदर ने 10 राउंड के मुक़ाबले में पहले राउंड में संभल कर शुरुआत की. वहीं ज़ुफिल्‍कार भी एक-दो बार अटैक करने के बाद डिफ़ेंसिव रहे. दूसरे राउंड में विजेंदर ने 23 साल के चीनी बॉक्सर पर अटैक शुरू कर दिया. 2015 में प्रोफ़ेशनल बने इन दोनों मुक्कबाज़ों के बीच तीसरे और चौथे राउंड में बराबरी की टक्कर देखने को मिली-लेकिन ज़्यादातर समय विजेंदर ने दबदबा कायम रखा. पांचवे राउंड में विजेंदर ने ज़ोरदार अटैक किया और बढ़त बनाते हुए दिखे. इस राउंड में उनके अपर कट का जबाव जुल्फिकार के पास नहीं था.

यह भी पढ़ें: विजेंदर सिंह का चीनी मुक्‍केबाज मैमतअली पर तंज, कहा - चाइनीज माल है, ज्यादा नहीं चलेगा

जुल्फिकार को पहले भी रेफ़री ने ग़लत शॉट के लिए चेताया और छठे राउंड में उन्हें चेतावनी मिली. जुल्फिकार को खेल भावना के ख़िलाफ़ शॉट लगाने के लिए प्वाइंट्स गंवाने पड़े.

सातवें और आठवें राउंड में जुल्फिकार ने अटैक किया...तो विजेंदर ने भी बराबरी से जवाब दिया. दोनों में विजेंदर यहां ज़्यादा थके हुए नज़र आए. नौवे राउंड में जुल्फिकार के ग़लत पंच की वजह से मैच रुका...रेफ़री ने एक बार फिर उन्हें चेताया. आख़िरी राउंड में विजेंदर संघर्ष करते दिखे और जुल्फिकार ने अटैक जारी रखा. लेकिन जजों ने प्वाइंट्स के आधार पर विजेंदर को विजेता घोषित किया. आख़िर का स्कोर रहा 96-93, 95-94, 95-94.

इस जीत के साथ ही विजेंदर ने अपने प्रो-बॉक्सिंग करियर में ना हारने का रिकॉर्ड बरक़रार रखा. विजेंदर ने अब तक खेले 9 फ़ाइट में से 7 मुक़ाबले नॉक-आउट से जीते हैं, सिर्फ़ यूरोपियन चैंपियन कैरी हॉप के ख़िलाफ़ विजेंदर नॉक-आउट से नहीं जीते हैं.

VIDEO: 7वीं फाइट जीतने के बाद क्‍या बोले विजेंदर सिंह


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement