NDTV Khabar

नशे में ड्राइविंग के दोषी फुटबॉलर वेन रूनी दो साल तक नहीं चला सकेंगे वाहन

शराब के नशे में वाहन चलाने की इंग्‍लैंड के फुटबॉलर वेन रूनी को बड़ी कीमत चुकानी पड़ी है.

52 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
नशे में ड्राइविंग के दोषी फुटबॉलर वेन रूनी दो साल तक नहीं चला सकेंगे वाहन

रूनी इंग्लैंड की ओर से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सबसे ज्यादा गोल करने वाले खिलाड़ी हैं (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. कोर्ट ने 100 घंटे सामुदायिक काम करने का भी दिया आदेश
  2. मैनचेस्‍टर में नशे की हालत में वाहन चलाते हुए पकड़े गए थे
  3. उस समय तय सीमा से तीन गुना ज्‍यादा नशे में थे रूनी
स्टॉकपोर्ट: शराब के नशे में वाहन चलाने की इंग्‍लैंड के फुटबॉलर वेन रूनी को बड़ी कीमत चुकानी पड़ी है. अदालत ने नशे में वाहन चालने के दोषी पाए गए रूनी पर दो साल तक वाहन नहीं चलाने का प्रतिबंध लगाया है. इसके साथ ही अदालत ने इंग्लैंड टीम के इस पूर्व कप्तान को 100 घंटे अवैतनिक समुदायिक काम करने का आदेश भी दिया है. गौरतलब है कि लीग मैचों में एवर्टन के लिये खेलने वाले 31 वर्षीय रूनी को पुलिस ने मैनचेस्टर में नशे की हालत में वाहन चलते हुये पकड़ा था. रूनी तय सीमा से तीन गुना ज्यादा नशे में थे.

यह भी पढ़ें : फुटबॉलर वेन रूनी को इंग्‍लैंड टीम से बाहर किया गया...

अदालत के फैसले के बाद एक बयान जारी कर उन्होंने कहा, ‘अदालत के फैसले के बाद मैं सर्वाजनिक रूप से इस अक्षम्य कार्य के लिये माफी मांगता हूं. तय सीमा से अधिक नशे में होने के बाद भी वाहन चलाना पूरी तरह मेरी गलती थी. इसके लिये मैंने पहले ही अपने परिवार, प्रबंधक और एवर्टन से जुडे लोगों से माफी मांग ली है. अब मैं अपने प्रशंसकों से भी माफी मांगता हूं.’रूनी इंग्लैंड की ओर से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सबसे ज्यादा गोल करने वाले फुटबॉलर हैं.

वीडियो: पूर्व फुटबॉलर सोना चौधरी का सनसनीखेज आरोप
रूनी ने पिछले माह ही  अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल से संन्यास लेने की घोषणा की है. रूनी ने ऐसे समय संन्‍यास लेने का फैसला किया जब  मैनेजर गैरेथ साउथगेट टीम में उनकी वापसी का प्रयास कर रहे थे. उन्‍होंने इंग्लैंड की ओर से 119 मैच में 53 गोल दागे. संन्‍यास की घोषणा करते हुए रूनी ने कहा, ‘यह काफी कड़ा फैसला. मैंने इस बारे में अपने परिवार, एवर्टन में अपने मैनेजर (रोनाल्ड कोमैन) और अपने करीबियों से बात की.’उन्होंने कहा, ‘इंग्लैंड के लिए खेलना मेरे लिए हमेशा से विशेष रहा. जब भी मुझे खिलाड़ी या कप्तान के रूप में चुना गया तो यह सचमुच में विशेष था. जिन्होंने भी मेरी मदद की मैं उनको धन्यवाद देता हूं लेकिन मेरा मानना है कि अब संन्यास लेने का समय आ गया है.’


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement